July 17, 2024

गरोठा विधान सभा चुनाव हुआ संग्रामी चुनाव बाद में लड़ेंगे पहले इनसे निपटेंगे

झांसी। जनपद की चारों विधान सभा में सबसे ज्यादा चर्चाओं में गरोठ और बबीना विधान सभा का चुनाव है। क्योंकि यहां दोनो ही सीटों पर बड़े बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। चुनाव जीतने के लिए एन केन प्रकरण कुछ भी हो सकता है। इसलिए यहां प्रशासन भी पूरी तरह से मुस्तैद बना हुआ है। इसके बावजूद शुक्रवार को प्रचार के अंतिम दिन अंतिम समय भाजपा और सपा के कार्यकर्ता आपने सामने आ गए और जमकर मारपीट हुई। जिसमे कई लोग घायल हुए। सूचना पर पुलिस बल के साथ सपा और भाजपा के विधायक प्रत्याशी भी मौके पर पहुंचे और दोनो एक दूसरे पर गंभीर आरोप लगा रहे है। समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक और विधायक प्रत्याशी दीपनारायण सिंह ने बताया की भाजपा विधायक के पुत्र की लगातार गुंडई बढ़ती जा रही है। आए दिन कोई न कोई विवाद करने की कोशिश कर रहे आज हमारे कार्यकर्ता वापस लोट रहे थे जिन्हें जानबूझ कर रोक कर मारपीट करते हुए गाड़ी में शराब रख दी। जिसकी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद है। उन्होंने कहा अगर प्रशासन कार्यवाही नही करेगा तो वह चुनाव बाद में लड़ेंगे लेकिन पहले इन लोगों से ठीक तरह से निपट लेंगे। वही भाजपा विधायक और वर्तमान विधायक प्रत्याशी जवाहर लाल भी थाने पहुंचे और उन्होंने आरोप लगाया की सपा की गुंडई लगातार बढ़ती जा रही। वोटरों को डराने धमकाने का काम किया जा रहा। वोटरों को प्रलोभन देकर खरीदा जा रहा। लेकिन जनता जाग चुकी है। राष्ट्र हित में मतदान होने से यह लोग बौखला गए और लड़ाई झगडे पर आमादा है। उन्होंने आरोप लगाया की सपा के लोग गाड़ियों में शराब रख कर बांट रहे ओर लोगों को डरा धमका रहे। प्रलोभन देने जैसे आरोप में एफआईआर भी हो चुकी है। आज शराब और पैसा बांटते पकड़े गए तो दबाव बना रहे है। उन्हे पूर्ण विश्वास है प्रशासन सही कार्यवाही करेगा।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा