May 19, 2024

भाजपा आएगी तो 715 किसानों की शहादत बेकार जायेगी:एसकेएम

झांसी। दिल्ली बॉर्डर पर एक साल चले किसान आंदोलन को समाप्ति के दौरान केंद्र सरकार द्वारा दिए गए आश्वाशन में से एक का भी किसानों को लाभ नहीं। इसलिए भाजपा आएगी तो 715 किसानों की शहादत बेकार जायेगी। किसान विरोधी भाजपा सरकार को सजा दे। इस बात की जानकारी देते हुए संयुक्त किसान मोर्चा की पत्रकार वार्ता आयोजित की गई। रविवार को स्थानीय होटल में आयोजित की गई पत्रकार वार्ता के दौरान संयुक्त किसान मोर्चा के शिवकुमार कक्का जी कोर कमेटी सदस्य संयुक्त किसान मोर्चा ने बताया की भाजपा सरकार किसान विरोधी है। किसान विरोधी बिल पास करने के बाद जब किसानों ने विरोध किया और धरना प्रदर्शन कर बिल को वापस लेने के लिए बॉर्डर पर एक साल तक डटे रहे। इससे पीएम मोदी घबरा गए और वह यूपी दौरे पर आए। यहां उन्होंने किसानों का विरोध देखते हुए डर कर बिल वापस लिया। बिक वापस लेने से पूर्व धरना में मौजूद किसानों ओर सरकार के बीच कई समस्याएं किसानों की रखी गई। जिस पर सरकार ने सभी मांगों को जल्द से जल्द पूरा करने का आश्वाशन दिया था। लेकिन आज तक सरकार ने दिए गए आश्वासनों का निस्तारण नहीं किया। जबकि धरना प्रदर्शन करने वाले किसानों पर झूठे मुकदमे लिखवाए, उन्हे खलिस्थान बताया, वही इस बिल वापस लेने के लिए प्रदर्शन कर रहे 715 किसानों की शहादत हो गई। उन्होंने कहा की अगर दोबारा भाजपा की सरकार बनेगी तो फिर किसान विरोध बिल पास हो जाएगा। इसलिए वह किसानों से अपील कर रहे है की किसान विरोधी भाजपा सरकार को सजा दे। अगर भाजपा सरकार आई तो 715 किसानों की शहादत बेकार जाएगी। उन्होंने कहा भाजपा के पास झूठ और किसान विरोधी के अलावा अपने कोई मुद्दे नही है। किसान विरोध भाजपा सरकार को वोट न करे। साथ ही उन्होंने बताया वह किसी पार्टी के पक्ष में किसानों से वोट करने को नहीं कह रहे। उन्होंने कहा जो किसानों का समर्थन करेगा किसान उसी को वोट करेगा। इस दौरान विमल शर्मा बुंदेलखंड किसान यूनियन अध्यक्ष योगेंद्र यादव संयुक्त किसान मोर्चा सदस्य, यदुवीर सिंह जादौन प्रदेश अध्यक्ष भारतीय किसान यूनियन, नीलम जी कोर कमेटी सदस्य, सुनीलम कोर कमेटी सदस्य, पप्पू पुरेनिया राष्ट्रीय उपाध्यक्ष किसान मोर्चा आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!