May 24, 2024

‘मेजर ध्यानचन्द्र को स्थायी सलामी’ मण्डलायुक्त ने मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय की रूपरेखा को दिया अन्तिम रूप झॉसी स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत बनने जा रहा है ‘मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय’ : मण्डलायुक्त

झांसी। सर्वकालिक विश्व विख्यात हॉकी के जादूगर के नाम से विख्यात गेजर ध्यानचन्द झाँसी की धरती के लाल रहे हैं, परन्तु इस युग पुरुष के बारे में झाँसी के लोग भी बहुत कम जानते हैं। झांसी के लोगों के गौरव मेजर ध्यानचन्द के बारे में झाँसी वासियों को अवगत कराने तथा भारत और विश्व के किसी भी कोने से इनके बारे में जानकारी की उत्सुकता रखने वालों के लिए मण्डलायुक्त डॉ० अजय शंकर पाण्डेय ने झांसी स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत मेजर ध्यानचन्द के संग्रहालय की योजना को आज अन्तिम रूप दिया।मण्डलायुक्त डॉ० अजय शंकर पाण्डेय ने पी०एम०सी०, स्मार्ट सिटी, झाँसी को निर्देश दिये हैं

कि मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय के क्रियान्वयन के समय, प्रोजेक्ट के निर्माण के समय उनके सुपुत्र विख्यात ओलम्पियन श्री अशोक ध्यानचन्द की सलाह अवश्य ली जाए और उन्हें पूरे प्रोजेक्ट में एक विशेषज्ञ के रूप में शामिल किया जाए। साथ ही इस संग्रहालय के प्रबन्धन के लिए जो भी व्यवस्था बने उसमें भी उनको स्थान दिया जाए।मण्डलायुक्त डॉ० अजय शंकर पाण्डेय ने बताया कि मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय में प्रदर्शन विषयों के लिए निम्नलिखित प्रस्ताव जो दर्शकों की आँखों को मोहित कर लेंगे1. जोन 1: थीम्स स्कल्पचर 2. जोन 2 जन्म और परिवार के बारे में3. जोन 3 बचपन और शिक्षा4. जोन 4 सेना में शामिल हुए।5. जोन 5: ऐतिहासिक हॉकी मैच6. जोन 6 ओलंपिक मैच7. जोन 7 भारतीय खेलों में योगदान8. जोन 8 कोच के रूप में मेजर ध्यानचंद9. जोन 9 फेम की दीवार10 जोन 10: फोटो गैलरी- राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय नेताओं के साथ ध्यानचंद11. जोन 11: ध्यानचंद के बारे में उनके समकालीनों द्वारा बोली जाने वाली संग्रहीत जानकारी / वीडियो 12. जोन 12: ध्यानचंद के अंतिम दिन13 जोन 13: ध्यानचंद के कुछ बेहतरीन गोल आर्काइव्य विजुअल डिस्प्ले14. जोन 14: आने वाली पीढ़ियों के लिए खेलों में करियर विकल्प 15. जोन 15: खेल प्रशिक्षण संस्थान16 जोन 16: भारत में खेलों के लिए सरकारी सहायता और पहल17. जोन 17: सम्मान और सम्मान18, जोन 18: हॉकी स्टेडियम का टेबल टॉप स्केल मॉडल 19. जोन 19: श्रद्धाजलि और प्रशंसा20. जोन 20: संग्रहीत समाचार पत्र और डाक टिकट प्रदर्शन21 जान 21: बच्चों के लिए स्पोर्ट्स कॉर्नर 22. जोन 22: विवज कॉर्नर23 जोन 23: फीडबैक24. जोन 24: स्मारिका काउंटर 25. जोन 25: रिसेप्शन26. जोन 26: कलाकृतियों का प्रदर्शनमण्डलायुक्त डॉ० अजय शंकर पाण्डेय द्वारा यह भी अवगत कराया गया कि मेजर ध्यानचन्द के संग्रहालय में एक-एक पहलू का प्रदर्शन डिजिटल माध्यम से होगा तथा इसके अन्तर्गत कुल 26 जोन बनाये गये है तथा उक्त सभी कार्य रानी लक्ष्मीबाई पार्क, झांसी में किए जा रहे हैं जिनकी कुल लागत रू0 19,69,80,295/- है और यह कार्य माह नबम्बर 2022 तक पूर्ण हो जाएगा।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!