May 20, 2024

संदिग्ध स्कॉर्पियो चार नाके तोड़कर भागी, बाल बाल बचे चौकी प्रभारी


झांसी। कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त रखने के लिए एसएसपी शिवहरि मीना के निर्देशन में हर चौराहों पर पुलिस मुस्तैद है। इसी पुलिस की मुस्तैदी के चलते सदिग्ध खुराफात करने से भी डर रहे। शनिवार की देर शाम एक स्कॉर्पियो गाड़ी काले शीशे लगे हुए इलाहाबाद बैंक चौराहे पर पी आर वी को तीन बार क्रोस करती हुई तेज गति में निकली। पीआरवी को गाड़ी संदिग्ध लगने पर उसने वायरल लैस सेट के माध्यम से सदर बाजार को सूचित किया की एक गाड़ी संदिग्ध लग रही जो तेज़ गति में भागती हुई बाटा चौराहे की तरफ जा रही है। इस सूचना पर एक्टिव हुई सदर बाजार पुलिस की नाका बंदी को तोड़कर स्कॉर्पियो कचहरी चौराहा से इलाईट चौराहे की तरफ भागी। सदर बाजार पुलिस वायरलेस सेट से ट्रैफिक पुलिस सहित जिले की पुलिस को अलर्ट कर दिया। इधर सूचना पर ट्रैफिक पुलिस ने चौराहे पर घेराबंदी कर दी वही उस स्कॉर्पियो के पीछे सदर बाजार पुलिस की भी गाड़ी लगी थी। अपने पीछे पुलिस की गाड़ी आते देख स्कॉर्पियो चालक ने तेज़ रफ्तार से गाड़ी भागते हुए ट्रेफिक पुलिस ओर जीवन शाह तिराहा पर लगी पुलिस को चकमा देकर ग्वालियर की ओर भागने लगी। इधर स्कॉर्पियो के पीछे पुलिस की गाड़ी को देख राहगीरों में हड़कंप मच गया। वही वायर लैस सेट की सूचना पर ग्वालियर रोड चौकी प्रभारी ने आने जाने वाले मार्ग पर ट्रैफिक बंद कर दिया। तभी भागती हुई आ रही स्कॉर्पियो गाड़ी के चालक ने ट्रेफिक तोड़कर भागने का प्रयास किया तभी गाड़ी को पकड़ने के लिए अपनी जान की परवाह किए बगैर खड़े ग्वालियर रोड चौकी प्रभारी पर स्कॉर्पियो चालक ने गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने खुद को बचा लिए ओर उनके द्वारा बंद किए गए ट्रेफिक से गाड़ी फस गई। पुलिस टीमों ने तत्काल गाड़ी चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला वह शराब के नशे में था और वह किसी दरोगा का पुत्र था जो आगरा मंडल में तैनात है। मामला विभाग का होने पर चालक को हिदायत देकर छोड़ दिया।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!