May 20, 2024

फायरिंग प्रकरण – सात गिरफ्तार : आखिर कौन है प्रशांत

झांसी। देर रात शहर कोतवाली इलाके में हुई मारपीट फायरिंग और और पथराव करने के आरोप में पुलिस ने ताबड़तोड़ दबिश देकर सात लोगों को गिरफ्तार कर शिकायत कर्ता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। वही गिरफ्तार किए गए युवकों के नाम प्रकाश में आने के बाद चर्चाएं चल रही आखिर प्रशांत कहा गया। न तो उसका शिकायत कर्ता ने नाम दर्ज किया ओर न ही पुलिस रिकॉर्ड में है। लेकिन फायरिंग करने के आरोप में पकड़े गए युवकों ने बताया उनके साथ तमंचा लेकर प्रशांत ही आया था जो मौके से भाग गया।जानकारी के मुताबिक मंगलवार की रात शहर कोतवाली क्षेत्र के उन्नाव गेट बाहर स्थित ऋषि कुंज स्कूल के पास कुछ नशे में धुत युवक अपने साथी का जन्मदिन पर पार्टी मनाते हुए सड़क पर उत्पात मचा रहे थे। तभी उनका मोहल्ले वासियों से हंगामा करने को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना गहरा गया की शराब के नशे में धुत युवकों ने मारपीट शुरू कर दी। मारपीट करते देख मोहल्ले वासियों ने शराबी युवकों पर पथराव करना शुरू कर दिया। मारपीट पथराव की सूचना पाकर जैसे ही पुलिस मौके पर पहुंची तभी उत्पात मचा रहे शराबी युवक फायरिंग करते हुए भागने लगे। पुलिस ने घेराबंदी करते हुए गोविंद चौराहा निवासी आरिफ, गुलाम गौस खां पार्क निवासी अरमान, आईटीआई निवासी दानिश, उन्नाव गेट बाहर निवासी राजा, सोहेल, बाहर सैयर गेट निवाड़ी विक्की अब्बासी को एक तमंचा सहित गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ शिकायत कर्ता भगवान दास निवासी ऋषि कुंज स्कूल निवासी की शिकायत पर एससी एसटी एक्ट और फायरिंग उत्पाद सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। वही बताया जा रहा आरिफ का जन्मदिन पार्टी उसके साथी मना रहे थे। सभी शराब के नशे में धुत होकर उत्पात मचा रहे थे। पकड़े गए युवकों ने बताया की उनके साथ एक युवक और था प्रशांत जिसने फायरिंग की थी। फिलहाल प्रशांत का नाम एफआईआर ओर पुलिस रिकॉर्ड में नही है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!