April 15, 2024

विवादित स्थान पर प्रतिमा रखने पर पूर्व मंत्री सहित दर्जनों के खिलाफ एफआईआर

झांसी। गत दिवस बड़ागांव गेट बाहर विवादित स्थान पर महापुरुषों की प्रतिमा रखने के मामले में कोतवाली थाना पुलिस ने पूर्व मंत्री सहित दर्जनों लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।कोतवाली थाना निरीक्षक सुधाकर ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया की संत की बगिया से परंपरागत तरीके से संत रविदास जी की जयंती पर जुलूस निकाला जाता है। इस परंपरा के चलते आयोजकों व कमेटी के सदस्यों तथा समाज के लोगों द्वारा कोई अनुमति नहीं ली गई थी। नगर मजिस्ट्रेट के समक्ष आयोजक तथा समाज के लोगों ने आश्वासन दिया था की जुलूस शांतिपूर्ण तरीके से निकालेंगे और संत की बगिया आश्रम पर जुलूस समाप्त कर देंगे। दिनांक 24 फरवरी 2024 को जुलूस गुदरी मोहल्ला से प्रारंभ होकर मिनर्वा रानी महल, बड़ाबाजार, मैरी तिराहा होते हुए संत की बगिया पहुंचा। जहां बने एक कमरे में रखी संत रविदास जी की प्रतिमा और डॉक्टर भीम राव अंबेडकर जी की प्रतिमा को समय करीब चार बजे पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रदीप जैन आदित्य व डॉक्टर रघुवीर चौधरी, के नेतृत्व में आयोजक उमाशंकर अहिरवार, दीपक, वीरेंद्र, सुनील, मनोज, सहित 60 से 70 लोग आए और सभी लोग मूर्ति रखे हुए कमरे का ताला खोलकर पूजा अर्चना करने के बहाने घुस गए और हम पुलिस वालों के साथ अभद्रता करने लगे, पुलिस के मना करने पर पुलिस बल के साथ धक्का मुक्की कर नारेबाजी करते हुए विवादित जमीन पर संत रविदास जी और डॉक्टर भीम राव अंबेडकर जी की प्रतिमा रख दी। इस घटना पर पुलिस ने गंभीर धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!