February 27, 2024

अपराध नियंत्रण, कानून व्यवस्था सुदृढ़ रखने, विवेचनाओं के निस्तारण आदि के संबंधित को दिए महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश जनशिकायत तथा IGRS के माध्यम से प्राप्त शिकायतों के त्वरित निस्तारण के निर्देश

झांसी। अपराधियों पर हो कठोर कार्यवाही, मध्य प्रदेश पुलिस से समन्वय बनाकर करे अपराधियों पर कसे शिकंजा। महिला उत्पीड़न संबंधी मामलों में शिथिलता न बरती जाए। यह निर्देश पुलिस लाइन में आयोजित मासिक अपराध समीक्षा में दिए गए।जनपद में शांति एवं कानून व्यवस्था सुदृढ़ रखने हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी के कुशल निर्देशन में जनपदीय पुलिस द्वारा प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। पुलिस अधीक्षक ग्रामीण/नगर/क्षेत्राधिकारी गण के सतत पर्यवेक्षण में समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष द्वारा क्षेत्र में निरंतर भ्रमणशील रहकर क्षेत्र की शांति व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी द्वारा जनपदीय पुलिस द्वारा की जा रही कार्यवाही का समय-समय पर औचक निरीक्षण भी किया जा रहा है। कर्तव्यपालन में लापरवाही करने वाले पुलिस कर्मियों के विरुद्ध कार्यवाही की जा रही है; उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले पुलिस कर्मियों को पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन भी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी द्वार किया जा रहा है। जनपद के समस्त पुलिस कर्मियों को जनता के प्रति शिष्ट व्यवहार करने तथा आमजन की हर संभव मदद करने के निर्देश दिए गए हैं। इसी क्रम में आज जिलाधिकारी झाँसी रविन्द्र कुमार एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी शिवहरी मीना द्वारा जनपद के समस्त राजपत्रित/अराजपत्रित अधिकारी गण के साथ पुलिस लाइन झाँसी सभागार में मासिक अपराध गोष्ठी की गयी। इसमें निम्न विन्दुओं पर प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए-*1.* तहसील/थाना समाधान दिवस, आईजीआरएस तथा जनशिकायत से प्राप्त प्रार्थना-पत्रों का त्वरित एवं गुणवत्तापूर्वक निस्तारण करें।*2.* गैंगेस्टर/एनएसए की कार्यवाही समय से करें।*3.* सोशल मीडिया पर सतर्क दृष्टि बनाये रखें। किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक खबरों पर त्वरित कार्यवाही सुनिश्चित करें।*4.* यातायात नियमो का कड़ाई से पालन करायें। किसी भी स्थिति में अवैध बस एवं टैक्सी स्टैण्ड संचालित नहीं होना चाहिए।*5.* टॉप-10 के संबंध में वांछित कार्यवाही करें।*6.* संवेदनशील स्थलों को चिन्हित कर वहाँ पिकेट लगायें तथा 112 की गाड़ी का प्वाइंट बनायें।*7.* जनप्रतिनिधि, व्यापारी बंधुओं, विभिन्न धर्मगुरुओं आदि से निरंतर संपर्क में रहें तथा विभिन्न त्यौहारों से पहले शांति समिति की मीटिंग आयोजित करें।*8.* माफियाओं के खिलाफ प्रभावी वैधानिक कार्यवाही करें। अवैध अतिक्रमण, अवैध कब्जा हटवाने संबंधी शिकायतों का त्वरित निस्तारण करायें।*9.* समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष/चौकी प्रभारी/ चीता मोबाइल/पीआरवी वाहन लगातार क्षेत्र में भ्रमणशील रहेंगे। किसी प्रकार की सूचना पर तत्काल पहुँचेगें।*10.* अंतर्प्रांतीय बॉर्डर से लगे हुए समस्त थानों द्वारा अवैध शराब तस्कर, जिलाबदर सहित अन्य अवैध गतिविधियों पर सतर्क दृष्टि रखी जायेगी। म0प्र0 पुलिस से सामंजस्य स्थापित कर सीमावर्ती क्षेत्रों में बैरियर लगाकर चेकिंग की जाये।*11.* महिला एवं बाल अपराधों पर प्रभावी कार्यवाही करें। *12.* मिशन शक्ति के तहत पिंक बूथ, पिंक कार्ड वितरित करें। महिला हेल्प डेस्क पर आने वाले शिकायतकर्ताओं से विनम्रतापूर्वक समस्याओं को सुनकर प्राप्त होने वाले प्रार्थना-पत्रों का समय से निस्तारण करायें. इसके अतिरिक्त वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी ने सैनिक सम्मेलन किया गया, जिसमें उपस्थित पुलिस कर्मियों से उनकी समस्याएँ पूँछी गयीं तथा उनके त्वरित निस्तारण हेतु संबंधित को निर्देशित किया गया।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!