February 26, 2024

पी0आर0डी0 जवानों द्वारा अनाधिकृत रूप से कार्यक्रमों/धरना/प्रदर्शन करने पर होगी पी0आर0डी0 एक्ट 1948 के अधीन अनुशासनात्मक कार्यवाही

झांसी। जिला युवा कल्याण एवं प्रा0वि0द0 अधिकारी/जिला कमाण्डेन्ट ने अवगत कराया गया है कि संज्ञान में आया है कि आज दिनांक 03 जून, 2022 को सुभाष रायकवार (गैर विभागीय व्यक्ति) के साथ पी0आर0डी0 मानदेय कर्मचारी वेल्फेयर एसोसिएशन/पी0आर0डी0 संघ, झॉसी उ0प्र0 के तत्वाधान में जनपद के कुछ पी0आर0डी0 स्वयंसेवकों द्वारा अपर नगर मजिस्ट्रेट झांसी के समक्ष युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग में ड्यूटी की मांग हेतु ज्ञापन दिया गया है।महानिदेशक, प्रान्तीय रक्षक दल/विकास दल एंव युवा कल्याण उ0प्र0 लखनऊ के पत्रांक सं02918/एक-42/प्रा0वि0द0/2006(टी0सी0) दिनांक 13 मार्च, 2010 एवं पत्रांक सं0 2151/चार-03 /प्रा0वि0द0/2008 दिनांक 09 फरवरी, 2011 निर्देशित किया गया है कि प्रान्तीय रक्षक दल एवं युवा कल्याण विभाग में प्रान्तीय रक्षक दल के स्वयंसेवकों/जवानों का शासन/विभाग द्वारा कोई भी मान्यता प्राप्त संगठन/सेवा संघ नहीं है। जिन्हें बैठक में आमंत्रित होने हेतु आमंत्रित कर समस्याओं का निराकरण कराया जा सके। ऐसी स्थिति में प्रान्तीय रक्षक दल के अवैतनिक स्वयंसेवकों/जवानों द्वारा किसी संगठन/संघ से सम्बन्धित पैड का उपयोग मान्य नहीं है।यदि किसी प्रान्तीय रक्षक दल के अवैतनिक सदस्यों द्वारा सेवा संगठन/संघ से सम्बन्धित किसी पैड का इस्तेमाल किया जाता है कि पत्राचार करने वाले अवैतनिक सदस्यों के विरूद्ध उत्तर प्रदेश सेवा संघो की मान्यता नियमावली 1979 में प्रावधानित नियमों के तहत कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।जनपद में कतिपय पी0आर0डी0 स्वयंसेवक संघों द्वारा फर्जी तरीके से एक समूह बनाकर संघ का नाम दिया जा रहा है, उसमें से ही कोई व्यक्ति स्वयंभू रूप से अपने आप को अध्यक्ष लिखने लगता है। जबकि विभाग में पी0आर0डी0 स्वयंसेवकों का काई भी मान्यता प्राप्त संघ नहीं है। यदि कोई पी0आर0डी0 स्वयंसेवक अनाधिकृत रूप से कार्यक्रमों/धरना/प्रदर्शन आदि में सम्मिलित होता है तो उसके विरूद्ध पी0आर0डी0 एक्ट 1948 के अधीन अनुशासनात्मक कार्यवाही अमल में लायी जाएगी।जनपद के समस्त पी0आर0डी0 जवानों को निर्देशित किया जाता है कि विभागीय/ड्यूटी सम्बन्धित समस्याओं हेतु जनपद कार्यालय एवं सम्बन्धित विकास खण्डों के क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं प्रा0वि0द0 अधिकारी/ड्यूटी प्रभारी से सम्पर्क स्थापित कर अपनी समस्याओं का निदान कराना सुनिश्चित करें।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!