June 22, 2024

डोली ले जाने आया दुल्हा ने दुल्हन की अर्थी उठाई

झांसी। शादी के दिन डोली उठने के पूर्व दुल्हन की अर्थी उठ गई। किन्ही कारणों के चलते दुल्हन ने कुआ में कूद कर आत्महत्या कर ली। जबकि मृतिका की आज शादी की शाम को बारात आनी थी। पूरा परिवार खुशियों के साथ बारात का स्वागत करने में लगा था। आज सुबह दुखद घटना ने पूरे परिवार में कोहराम मचा दिया। दुल्हन की डोली लेने आ रहे दुल्हा को उसकी अर्थी उठानी पड़ी। शादी के दिन कुआं में कूदने से दुल्हन की मौत होने का मामला सामने आया है। आज रात को बारात आनी वाली थी और शादी की पूरी तैयारी हो चुकी थी। कुआं में शव मिलने के बाद शादी की खुशियां पलभर में मातम में बदल गई।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है। सीपरी बाजार थाना प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि लड़की ने कुआं में कूदकर आत्महत्या की है, लेकिन आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

बुधवार रात को परिजन फलदान चढ़ाकर लौटे थे

सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के बूढ़ा गांव निवासी प्रीति (20) पुत्री संजीव पाल 5वीं कक्षा तक पढ़ी थी। पिता संजीव पाल ने बताया कि तीन माह पहले ही बेटी का रिश्ता कुम्हरा गांव में निखिल से तय हुआ था। सगाई के बाद परिजन बुधवार रात को ही फलदान देने के लिए कुम्हरा गए थे। रात करीब एक बजे वे घर लौटकर आए थे।

गोताखोरों ने कुएं से निकाला शव

पिता ने बताया कि वह परिवार के साथ खेत पर बने घर में रहते थे। वहीं पर गुरुवार रात को बारात आने वाली थी। लेकिन गुरुवार सुबह दादी अंगूरी जगी तो प्रीति चारपाई पर नहीं थी। तब उसकी तलाश शुरू की तो घर के पास कुआं के बाहर प्रीति की चप्पलें उतरी थी। कुआं में पानी था।

तब गोताखोर कुआं में उतरे और तलाश की। थोड़ी देर बाद कुआं के अंदर से प्रीति का शव बरामद हो गया। इसके बाद सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। संजीव के 3 बेटियों व एक बेटा में प्रीति सबसे बड़ी थी।

आत्महत्या के दो कारण हो सकते हैं

अब तक की पुलिस जांच में सामने आया कि आत्महत्या के दो कारण हो सकते हैं। पहला कि प्रीति की मर्जी के अनुसार शादी नहीं हो रही थी। इसलिए उसने जान दी। जबकि दूसरा फलदान के बाद उसका दूल्हे से विवाद होना भी हो सकता है। फिलहाल सुसाइड का कारण स्पष्ट नहीं है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!