June 16, 2024

विकास प्राधिकरण ने उठाया बड़ा कदम, जांच के नाम पर वसूली करने वालों के खिलाफ होगी एफआईआर

झांसी। आज उपाध्यक्ष झांसी विकास प्राधिकरण सर्वेश दीक्षित द्वारा अवगत कराया गया कि प्राधिकरण में विभिन्न माध्यमों से शिकायतें प्राप्त हुई हैं कि प्राधिकरण क्षेत्र में कुछ प्राइवेट व्यक्तियों द्वारा मानचित्र की जांच एवं निर्माणाधीन भवनों की जांच के नाम पर नागरिकों से अवैध वसूली करने का प्रयास किया जा रहा है। यह आरोप अत्यन्त गंभीर है। इस सम्बन्ध में सभी अवर अभियन्ताओं एवं प्रवर्तन दल के प्रभारी से अपेक्षा की गयी है कि इस बिन्दु पर तत्काल सूचनायें एकत्रित करके ऐसे व्यक्तियों को गिरफ्तार कराने की कार्यवाही करायें। उन्होंने कहा कि यह भी संज्ञान में लाया गया है कि प्राधिकरण के कुछ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी व आउटसोर्स कर्मचारी भवन मानचित्र की जांच एवं निर्माण कार्यों की जांच के नाम पर कुछ अवर अभियन्ताओं के साथ जाते हैं तथा भवन निर्माताओं को परेशान करने की कोशिश करते हैं। इस सम्बन्ध में समस्त अवर अभियन्ताओं को निर्देशित किया गया है कि वह तत्काल प्रभाव से सचिव झांसी विकास प्राधिकरण द्वारा जारी परिचय पत्र को धारण करके ही क्षेत्र में भ्रमण करें तथा प्राधिकरण के किसी भी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, आउटसोर्स कर्मचारी को साथ में ले जाकर जांच की कार्यवाही न करें अन्यथा साबित पाए जाने पर बिना स्पष्टीकरण प्राप्त किये ही उनके विरुद्ध निलम्बन की कार्यवाही प्रस्तावित कर दी जायेगी तथा कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। उपाध्यक्ष झांसी विकास प्राधिकरण ने बताया कि प्राधिकरण में मानचित्र स्वीकृति तथा शमन कार्य सही ढंग से न करने के कारण सुखवीर सिंह, अवर अभियन्ता (सिविल) को उक्त कार्य से हटा दिया गया है तथा उन्हें कार्यालय से सम्बद्ध किया गया है। किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान एवं शिकायत हेतु कृपया निम्न दूरभाष नम्बरों पर सम्पर्क करें : 9450382928/9506034777/9827378696

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!