February 26, 2024

मतदान के बाद मतगणना को निष्पक्ष शांतपूर्ण कराने के लिए पुलिस ने कसी कमर असामाजिक तत्वों पर ड्रोन कैमरे से पुलिस रखेगी नज़र, एक हजार से अधिक संख्या में रहेगी पुलिस तैनात

झांसी। निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान कराने के बाद अब पुलिस ने मतगणना को भी निष्पक्ष शांतिपूर्ण कराने के लिए कमर कस ली है। खुराफाती ओर अराजक तत्वों पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरे का सहारा लेगी पुलिस। जिला प्रशासन द्वारा स्वीकृत किए गए पास के बिना किसी की एंट्री नहीं होगी। वही एक हजार सेअधिक संख्या में पुलिस सुरक्षा व्यवस्था लगाई जाएगी। मतदान की तरह मतगणना को निष्पक्ष शांति पूर्ण कराने के लिए एसएसपी शिवहरि मीणा ने पूरा खाका तैयार कर लिया है। जनपद में विधानसभा चुनाव 2022 के तीसरे चरण में चुनाव सकुशल संपन्न होने के बाद पुलिस द्वारा मतगणना हेतु अपनी तैयारियाँ पूरी कर ली गयी हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झाँसी शिवहरी मीना महोदय के कुशल मार्गदर्शन में मतगणना स्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। इस दौरान ड्रोन कैमरों से असामाजिक तत्वों पर पुलिस द्वारा सतत निगरानी रखी जायेगी। त्रिस्तरीय सुरक्षा में 02 एडिशनल, 08 क्षेत्राधिकारी, 20 थानों के प्रभारी, 16 निरीक्षक, 67 उपनिरीक्षक, 760 आरक्षी/मु.आरक्षी, 112 महिला आरक्षी, ट्रैफिक पुलिस (01 निरीक्षक, 02 उ0नि0 तथा 19 आरक्षी), 01 प्लाटून CAPF (40 जवान), 01 कंपनी पीएसी (120 जवान), 40 होमगार्ड तथा 100 पीआरडी के जवानों को तैनात किया गया है। साध ही साथ जिलाधिकारी झाँसी से सभी विन्दुओं पर मजिस्ट्रेट की नियुक्ति करने हेतु पत्राचार किया गया है। 49 पुलिस कर्मियों को सिविल ड्रेस में तथा समस्त थाना प्रभारियों को ‘बॉडी वॉर्न’ कैमरे के साथ तैनात किया गया है। अंदर आने वाले लोगों (प्रत्याशी और एजेन्ट) की डीएफएमडी तथा ‘ब्रीथ एनालाइजर’ से चेक करने के बाद ही प्रवेश दिया जायेगा। सभी राजनीतिक पार्टियों को अनुरोध पत्र भेजा गया है कि पार्टी का ‘एजेन्ट’ पुलिस वेरिफिकेशन के बाद बनाया जायेगा और आपराधिक इतिहास वाले व्यक्ति को पुलिस द्वारा ‘एजेन्ट’ बनने के लिए अनुमति नहीं दी जायेगी । पुलिस कर्मियों के साथ सभी ‘एजेन्ट्स’ तथा प्रत्याशियों के लिए भी परिचय-पत्र जारी किये जायेंगे। किसी भी प्रत्याशी, एजेन्ट अथवा पुलिस कर्मी को बिना पास तथा बिना चेक किये अंदर नहीं जाने दिया जायेगा। महिला एजेन्ट एवं प्रत्याशियों की चेकिंग महिला पुलिस कर्मी द्वारा की जायेगी। मोबाइल, कैमरा तथा ऑडियो/वीडियो रिकॉर्ड करने वाली किसी प्रकार की ‘डिजिटल डिवाइस’ अंदर ले जाना अनुमन्य नहीं होगा। त्वरित रिस्पांस के लिए दंगा नियंत्रण उपकरणों के साथ रास्तों पर QRT तैनात की गयी है। मतगणना स्थल पर ‘बाउंडरी’ के बाहर मोबाइल पार्टियाँ तैनात रहेंगी। इसके अतिरिक्त जनपद के कस्बों में एवं बिभिन्न प्रमुख चौराहों पर राउण्ड द क्लॉक बैरियर ड्यूटी तैनात की गयी है। पुलिस द्वारा चुनाव में गड़बड़ी फैलाने वाले संभावित ऐसे लोग जिनके विरुद्ध निरोधात्मक कार्यवाही की गयी है, उनकी सतत निगरानी की जा रही है। इसके अतिरिक्त ‘सोशल मीडिया’ के विभिन्न ‘प्टेलफार्म्स’ पर पुलिस द्वारा लगातार निगरानी की जा रही है। माहौल खराब करने वाले व्यक्तियों पर पुलिस द्वारा निरोधात्मक कार्यवाही की जायेगी एवं सतत अभियान चलाकर मतगणना से पूर्व उनकी गिरफ्तारी सुनिश्चित की जायेगी।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!