June 16, 2024

कर्नाटक और हाथरस की घटनाओं पर राष्ट्रभक्त और विहिप में आक्रोश

झांसी। शिवमोगा कर्नाटक और हाथरस में हुई हत्याओ से अक्रोषित राष्ट्र भक्त संगठन और विश्व हिंदू परिषद ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेज कर कठोर कार्यवाही की मांग की। मंगलवार को राष्ट्र भक्त संगठन के केंद्रीय अध्यक्ष अंचल अड़जरिया के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति संबोधित ज्ञापन देते हुए बताया की पिछले कुछ समय से एक विशेष धर्म के कट्टर पंथियों द्वारा अभिव्यक्ति की आज़ादी पर पूर्तः पाबंदी लगाए जाने तथा तालिबानी सोच को भारत वर्ष में लागू करने करने के लिए जघन्य हत्याएं कर हिंदू जनमानस की भावनाओ को दबाने एवम समाज में डर भय का वातावरण बनाए जाने का प्रयास किया जा रहा है। इसका ताजा उदाहरण कर्नाटक के शिव मोगा में हुई हर्ष की हत्या उसके पूर्व हैदराबाद में हुई किशन की हत्या सहित मामलों पर प्रकाश डालते हुए इन घटनाओं को रोकने के लिए इनकी गहराई से जांच कराने के लिए एनआईए को गठित कर फास्ट ट्रेक कोर्ट गठित कर फांसी की सजा दी जाए। जिससे इस देश का माहौल खराब करने वाले लोगों के मंसूबों पर पानी फिर सके फिर ऐसे लोग देश को फिर तालिबानी बनाने की कोशिश न करे। वही विश्वहिंदू परिषद के तत्वावधान में जिलाध्यक्ष प्रभाकर अवस्थी के नेतृत्व में जिलाधिकारी के माध्यम राष्ट्र पति संबोधित ज्ञापन देते हुए बताया की शिवमोगा में बजरंग दल के सक्रिय कार्यकर्ता धर्मवीर हर्षा की मुस्लिम जेहादियों द्वारा धारदार हथियार से की गई हत्या से पूरे हिंदू जन मानस में आक्रोश बना हुआ है। उन्होंने कई घटनाओं का हवाला देते हुए हत्यारों की गिरफ्तारी और कठोर सजा की मांग की है। इस दौरान अभिषेक राजपूत, विकास अवस्थी, हरीश बजरंगी आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!