June 16, 2024

चुनाव प्रभावित करने के लिए लाई गई हथियारों की खैप पकड़ी पुलिस मुठभेड़ में पकड़े गए अंतर्राजीय असलाह तस्कर

मैनपुरी। चुनाव प्रभावित करने के लिए माफियाओं को भेजी जा रही असलहों की खेप माफियाओं तक पहुंचने से पहले पुलिस ने पकड़ ली। स्वाट टीम और भागांव की पुलिस ने संयुक्त रूप से अभियान के तहत मुठभेड़ के दौरान चार असलाह तस्करों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से भारी मात्रा में असलाह पिस्टल बरामद की है। मंगलवार को मैनपुरी पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया की विधान सभा चुनाव को सकुशल शांति पूर्वक कराने के लिए उनके निर्देशन में क्षेत्राधिकारी चंद्रकेश सिंह के नेतृत्व में अपराधियों के खिलाफ लगातार अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत स्वाट टीम प्रभारी विक्रम सिंह, भोगांव थाना प्रभारी रविंद्र कुमार बहादुर, स्वाट टीम कांस्टेबल पदम कुमार, मनोज, महिपाल अपराधियों की धर पकड़ में लगे थे। तभी जरिए मुखबिर सूचना मिली की एक सफेद रंग की चार पहिया गाड़ी में चुनाव को प्रभावित करने के लिए भारी मात्रा में असलाह गैंगस्टर को सप्लाई करने ले जाई जा रही है। इस सूचना पर भोगांव थाना पुलिस स्वाट टीम और सर्वलांस अपनी पूरी टीम के साथ सफेद रंग की बोलेरो का इंतजार करने लगे। तभी एक सफेद रंग की बोलेरो आती दिखाई दी। जिसे रोकने का इशारा करने पर बोलेरों सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर गोलियां चलानी शुरू कर भागने लगे। तभी स्वाट ओर भोगांव पुलिस ने भी आत्मरक्षा के लिए फायरिंग कर बदमाशों कि घेराबंदी कर ली और वोलेरो सवार चारो युवकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 20 पिस्टल, 70 कारतूस, दो मोबाइल फोन तथा नकदी और वोलरो गाड़ी बरामद कर ली। पुलिस अधीक्षक ने बताया की यह स्वाट टीम और थाना पुलिस की बड़ी सगकता है। उन्होंने कहा अगर पुलिस टीम सक्रिय न होती तो यह असलाह गैंगस्टर तक पहुंच जाते ओर चुनाव में व्यवधान पैदा कर सकते थे। पकड़े गए बदमाशों ने अपने नाम आगरा के चित्रहात निवाड़ी राजबहादुर, मध्य प्रदेश के जिला भिंड निवासी जितेंद्र उर्फ जीतू, दिनेश राजकुमार बताए। पुलिस अभी पकड़े गए बदमाशों से उन गैंगस्टर की जानकारी ले रही है जिन्होंने यह हथियार मंगवाए थे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!