April 15, 2024

झाँसी के विकास के लिए कैलाश साहू को विजयी बनाये : मायावती

झाँसी ! बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती रविवार को जनसभा कोंच रोड उरई में मंडल स्तरीय चुनावी जनसभा को संबोधित किया। सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय जनसभा में पार्टी अध्यक्ष मायावती ने झाँसी नगर विधान सभा प्रत्याशी कैलाश साहू, बबीना विधानसभा प्रत्याशी दसरथ सिंह राजपूत, मऊरानीपुर बिधानसभा प्रत्याशी रोहित रतन अहिरवार, गरौठा विधानसभा प्रत्याशी वीर सिंह, माधोगढ़ विधानसभा प्रत्याशी शीतल कुशवाहा, उरई सदर विधानसभा प्रत्याशी श्रीपाल अहिरवार, कालपी विधानसभा प्रत्याशी छुन्ना पाल को भारी मतों से विजयी बनाने कि अपील की।मायावती ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में चुनावी रैली को संबोधित किया। मायावती ने मंच पर पहुंचते ही भाजपा, सपा और कांग्रेस तीनों पार्टियों को निशाने पर लिया। कहा- सपा सरकार में गुंडे-बदमाशों का राज रहा। कांग्रेस नाटकबाजी करती है, जब सत्ता में थे, तब महिलाएं क्यों नहीं याद आईं उनको ? मायावती ने कहा कि कांग्रेस अपनी गलत नीतियों की वजह से ही सत्ता से बेदखल हुई। कांग्रेस पार्टी ने अनुसूचित जाति, पिछ़डों और आदिवासियों की खिलाफत की। जब उनकी सरकार थी तो उन्होंने बाबा साहेब आंबेडकर को भारत रत्न नहीं दिया। भाजपा के राज में उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति वर्ग के बुरे हाल हैं। भाजपा सिर्फ राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) का एजेंडा चला रही है।मायावती ने कहा, कि दलितों को पदोन्नति में आरक्षण से रोकने का काम सपा ने किया। सपा ने कभी दलितों को पसंद नहीं किया। गुंडे-बदमाशों को संरक्षण दिया। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि भाजपा के लोग आरएसएस के संकीर्ण एजेंडे को लागू करने में लगे हैं। भाजपा ने पक्षपात का शासन किया। उत्तर प्रदेश की जनता से सौतेला रवैया अपनाया गया। पूरे देश के किसान केंद्र सरकार की गलत नीतियों को खामियाजा भुगत रहे हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा ने पूंजीपतियों का विकास किया है, लेकिन बसपा ने भूमिहीनों को भूमि दी। दलित और पिछड़ों को आगे बढ़ाया है।  इस बार सभी ओपिनियन पोल बदले नजर आएंगे। बसपा एक बार फिर से पुराना इतिहास दोहराएगी। इस बार उत्तर प्रदेश से बसपा को बड़ी सफलता मिलेगी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे किसी के बहकावे में न आएं .जनसभा में मुख्य सेक्टर प्रभारी / बुंदेलखंड प्रभारी लालाराम अहिरवार, पूर्व मंत्री रतन लाल अहिरवार, अखिल भारतीय कुशवाहा महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष जुगल किशोर कुशवाहा, मुख्य सेक्टर प्रभारी में रविकांत मौर्य, बी.के गौतम, कैलाश पाल,रविंद्र उर्फ़ लबली, आनंद साहू, सेक्टर प्रभारी में संतोष राज वर्मा एड.,अनीस राइन, अमजद खान, वाहिद मंसूरी, इंद्रजीत अहिरवार,जिलाध्यक्ष राजू राजगढ़ ,डॉ. विनोद पिपरा, देवेंद्र अहिरवार, भूपेंद्र आर्य, जिला महासचिव में चंद्रशेखर आजाद रायकवार, नीरज गुप्ता, चन्दन वाल्मीकि, जिला संगठन मंत्री प्रदीप वर्मा, जिला सचिव में सुरेंद्र श्रीवास, चौधरी जमाल, मंडल संयोजक बालकिशन कबूतरा, पूर्व जिलाध्यक्ष में मुन्ना पाली, मदनलाल अहिवार, रामबाबू चिरगइया, जयपाल अहिरवार, जिला उपाध्यक्ष में संजय बाजपेयी, शिवम् चौधरी, प्रदीप अहिरवार, गनेश पाल, संजीव फाइटर विधानसभा अध्यक्ष, दिनेश वर्मा विधानसभा उपाध्यक्ष विवेक अहिरवार कोषाध्यक्ष, अजय चौधरी, असरफ कुरैशी, पार्षद सिद्धार्थ अहिरवार, पार्षद महेश गौतम, विमल उर्फ़ विक्की, शाहिद मंसूरी, हीरालाल कुशवाहा, तवरेज मंसूरी, सुनीता साहू, पूजा अहिरवार, सचिन बौद्ध, राजकुमारी अहिरवार, मनोज अहिरवार, एड. रविंद्र अहिरवार, चंद्रभान अहिरवार, उतकर्ष साहू,रवि वर्मा गुदरी, बंटी अहिरवार, महेश रिछारिया, विक्रम अहिरवार, त्रिलोक राजपूत, ध्रुवल राजपूत, संतोष वर्मा, राहुल गौतम, जीतू अहिरवार, राहुल अहिरवार, हीरालाल कुशवाहा, संजय श्रीवास, गनेशी लाला प्रजापति, डॉ. अनिल सोनी, प्रमोद पांचाल, रहीश खान, शुभम प्रजापति, आदि बसपा कार्यकर्ता मौजूद रहे.

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!