May 20, 2024

वोट मांगने निकले रश्मि आर्य के काफिले को सपाइयों ने रोका दिखाए काले झंडे पति की अपराधिक छवि, ओर दल बदल परेशानी में डाल सकता रश्मि को

झांसी। समाजवादी पार्टी छोड़ कर भाजपा समर्थित अपना दल एस में पहुंची रश्मि आर्य को मऊ रानीपुर विधान सभा क्षेत्र से जीत मिलना आसान नहीं दिख रहा। दल बदलने से जहां उनका सपा समर्थित लोग ग्रामीण क्षेत्रों में जाने पर उनका विरोध कर रहे। वहीं उनके पति की अपराधी पृष्ट भी रश्मि की जीत की राह में रोड़ा बनेगा। बताया जा रहा इनके पति पर अपराधिक मुकदमे है और उच्च न्यायालय से राहत पाकर क्षेत्र में जनता के बीच जा रहे है। समाजवादी पार्टी छोड़ कर अपना दल भाजपा समर्थित में पहुंची रश्मि आर्य को अपना दल ने मऊ रानीपुर सीट से विधान सभा प्रत्याशी बनाया है। उनके प्रत्याशी बनते ही उनका विरोध शुरू हो गया है। बताया जा रहा की आज रश्मि आर्य के पति पप्पू सेठ आर्य जन संपर्क करते हुए कारगुवा खुर्द पहुंचे जहां ग्रामीणों ने उन्हे रोक लिया और समाजवादी पार्टी का झंडा व काले झंडे हाथ में लेकर उनका जमकर विरोध करते हुए गांव में नही घुसने दिया। ग्रामीणों का आरोप था की पिछले पांच वर्षो से जितने के बाद विधायक गांव में नही आए और आप लोग अपने स्वार्थ के लिए पार्टी छोड़ कर दूसरी पार्टी में चले गए और वोट मांगने आ गए । अब इस गांव की जनता आपको वोट नही देगी। विरोध बढ़ता देख रश्मि का काफिला वापस लोट गया। यह विरोध इनका सपा समर्थित लोग कई ग्रामीण क्षेत्रों में कर रहे है। आपको बता दे की वर्ष 2017 में भाजपा सरकार अपराध मुक्त स्वच्छ वातावरण देने के नारे पर उत्तर प्रदेश में आई थी। भाजपा यही श्लोगन के सहारे इस बार भी मैदान में है। लेकिन भाजपा समर्थित अपना दल से मऊ रानीपुर प्रत्याशी के पति के अपराधिक मामलों को देख कर अब जनता अचंभित हो रही। ऐसे में राजनीति गलियारों में हलचल चल रही की रश्मि की जीत की राह आसान नहीं दिख रही।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!