April 15, 2024

प्यार में धोखा देकर आत्महत्या के लिए उत्पीड़ित करने का आरोप, पुलिस जांच में रिश्तों की मर्यादा को कलंकित करने का हुआ खुलासा

झांसी। आज कल प्रेम प्रसंग इतना हावी हो गया है की वह रिश्तों की मर्यादा को भी तार तार कर रहा है। इसे अब प्यार कहे या कुछ और लेकिन रिश्तों में मर्यादा को भूल जाना शायद प्यार नही। ऐसा ही एक मामला झांसी झांसी में प्रकाश में आया जहां सगी बुआ के बेटे लेखपाल और टीचर के बीच 10 साल तक चली एक लंबी प्रेम कहानी में अचानक टीचर ने सुसाइड कर परिजनों को सदमे में ला दिया है।परिजनों के मुताबिक लेखपाल ने उनकी बेटी को धोखा देकर किसी और से शादी कर ली। जिस कारण डिप्रेशन में आकर उनकी बेटी ने आत्मघाती कदम उठाया है।पुलिस ने तहरीर के आधार पर जांच पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस जांच में रिश्तों को तार तार कर देने वाली बात सामने आई है। झांसी के सदर बाजार थाना क्षेत्र के भट्टागांव निवासी युवती 2 साल पहले सरकारी टीचर बनी थी। और उनका 2015 में लेखपाल बने अपनी सगी बुआ के बेटे जिसका घर में आना जाना था।पिछले 10 साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। युवती घर वालों से छिपकर लेखपाल से मिलकर शादी के सपने देखा करती थी।लेकिन लेखपाल के परिजन दोनों का रिश्ता भाई बहन का होने की वजह से शादी से इंकार कर रहे थे। 8 माह पहले लेखपाल ने किसी और शादी कर सुमनला को धोखा दे दिया। ऐतराज करने पर लेखपाल मृतिका को अब भी आश्वासन दे रहा था की पत्नी को तलाक देकर उससे शादी करेगा। सुमनलता को लगा की उसको उसका प्यार हासिल हो जायेगा।लेकिन अचानक लेखपाल ने शादी से मना कर दिया। जिस कारण युवती ने आत्महत्या कर ली।–बुआ के बेटे लेखपाल से प्यार, धोखा और आत्महत्या की प्रेम कहानीमृतका की छोटी बहन ने बताया पिता उत्तराखंड में टीचर की नौकरी करते हैं।चार भाई बहनों में मृतिका तीसरे नंबर की थी। उसकी बहन गांव के हाईस्कूल में सरकारी टीचर थी। लेखपाल ने मेरी बहन को प्रेमजाल में फंसाकर शादी का वादा किया। लेकिन उसने बहन को धोखा देते हुए जून 2023 में दूसरी युवती से शादी कर ली।सदमे को उसकी बहन बर्दास्त नहीं कर सकी और वह डिप्रेशन में रहने लगी।लेखपाल की शादी के एक दिन पहले उसने नवाबाद थाने में शिकायत कर दी थी।शिकायत पर पुलिस ने दोनों पक्षों को बुलाया था। बातचीत के बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया था। लेकिन लेखपाल नहीं सुधरा। उसने शादी के बाद भी बहन से बातचीत करना जारी रखा।दोनों चोरी छिपे मिला करते थे। लेखपाल मेरी बहन से कहता था कि पत्नी को तलाक देकर तुमसे शादी कर लूंगा। ये झूठा भरोसा देकर वो मेरी बहन को कहीं और शादी नहीं करने दे रहा था। अब कुछ दिन पहले उसने शादी करने से मना कर दिया। इससे बहन डिप्रेशन में चल रही थी। बहन की बोर्ड एग्जाम में ड्यूटी लग रही थी। शुक्रवार को उनकी ड्यूटी नहीं थी। सुबह करीब 10:30 बजे घर से बोलकर निकली कि वह स्कूल के काम से मार्केट जा रही हैं। करीब 12 बजे वह घर लौटकर आई। फिर कमरे में चली गई।कमरे को अंदर से लॉक कर उसने जहर खा लिया। करीब एक घंटे बाद वह चीखने-चिल्लाने और उल्टी करने लगी। मैंने और मां ने किसी तरह उनसे दरवाजा खुलवाया। तब वह बोली कि जहर खा लिया। अब जीना नहीं है। हम लोग तुरंत उनको मेडिकल कॉलेज ले गए। जहां इलाज के दौरान शाम को बहन की मौत हो गई।मौत के बाद किरनलता अपने परिवार के साथ थाने पहुंची और लेखपाल के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए तहरीर दी। किरनलता का कहना है कि मेरी बहन को इंसाफ मिलना चाहिए। पुलिस सख्त कार्रवाई करे।सदर थाना प्रभारी सरिता मिश्रा का कहना है कि सुमनलता ने सुसाइड किया है। उसकी बहन ने एक तहरीर दी है। जिसमें एक लेखपाल द्वारा प्रेम प्रसंग में धोखा देने पर सुसाइड करने की बात लिखी है। लेखपाल की 8 माह पहले ही शादी हुई है।थाना प्रभारी ने बताया की जांच में पाया गया की आरोपी लेखपाल और मृतिका की सगी बुआ का लड़का है। जिसकी जानकारी मृतिका के परिजनों की तरफ से नहीं दी गई। पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच करवाई जा रही है। जांच के बाद आगे कार्यवाही की जाएगी। शव का पोस्टमॉर्टम करवाया जा रहा है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!