July 12, 2024

मिशन शक्ति फेज 4: छेड़खानी के आरोपियों का शांतिभंग में चालान

झांसी। एक ओर जहां महिलाओं युवतियों पर हो रहे अत्याचार को रोकने और अत्याचार अपराध करने वालों के खिलाफ उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कठोर कानून बना रही लगातार तरह तरह की योजनाएं चला रही, मिशन शक्ति अभियान के तहत महिलाओं युवतियों को उनके ऊपर हो रहे अपराध के खिलाफ जंग लड़ने का तरीका बता रही वही दूसरी ओर पुलिस ऐसे मामलों में शिथिल कार्यवाही कर अपराध करने वालों के हौसले बढ़ा रही। गत दिनों कोतवाली क्षेत्र में एक युवती के साथ रास्ते में छेड़खानी करने वाले आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा तो लिखा लेकिन तीनो आरोपियों का शांतिभंग में चालान कर दिया। जिससे आरोपियों को देर शाम जमानत मिल गई और बड़ी राहत मिली। जानकारी के मुताबिक उन्नाव गेट अंदर सूजे खां खिड़की मोहल्ला निवासी युवती ने कोतवाली थाना में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया था की 7 जून की शाम को वह कोचिंग पढ़ने जा रही थी। तभी रास्ते में खड़े चार युवक हेमंत कुशवाह, सोनू, समीर और हीरो उर्फ अफसर ने उसे देखते ही छींटा कसी शुरू करते हुए कहा आज कल बहुत उड़ रही है, इसे उठा कर ले जायेंगे, विरोध करने पर उसके साथ छेड़खानी कर दी। इसकी सूचना उसने अपने घर पहुंच कर भाई को दी। युवती का भाई युवकों को घटना का उलाहना देने गया तो युवकों ने उसकी जमकर मारपीट की। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीन आरोपी सोनू, समीर तथा हीरो उर्फ अफसर को गिरफ्तार कर लिया। वही युवती की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ धारा 354 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। लेकिन पुलिस ने सभी आरोपियों का शांतिभंग धारा 151 में चालान कर उन्हे बड़ी राहत दे दी। युवती थाना में 164 के बयान दर्ज कराने को थाना में बैठी रही वही आरोपी शांतिभंग में अपना चालान कराकर घर पहुंच कर आराम फरमाते रहे। क्या यही है, मिशन शक्ति फेज 4 का मतलब।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा