February 26, 2024

अवैध हुक्का बार भोकाल में मारपीट तोड़फोड़, सड़कों पर दौड़ा दौड़ा कर पीटा, जमकर फैलाई दहशत, सीपरी के पंचतंत्र पार्क के पास , रामाबुक डिपो चौराहा, आर्यकन्या स्कूल के बगल में बने कॉम्प्लेक्स में हुक्का की आड़ में दिया जा रहा गांजे का नशा

झांसी। प्रदेश सरकार की ओर से हुक्का बार को कोई लाइसेंस नहीं दिया गया है। उसके बावजूद जिला प्रशासन की अनदेखी ओर स्थानीय पुलिस की मिली भगत से शहर में अवैध हुक्का बार की बाड़ आ गई। हुक्का बार की आड़ में रेस्टोरेंट संचालक अनैतिक कार्य करा रहे ओर युवाओं युवतियों को हुक्का की जगह नशीले पदार्थ का सेवन गांजा चरस स्मैक का शौकीन बनाया जा रहा है। इस और पुलिस ओर जिला प्रशासन के आलाधिकारियों का बिलकुल भी ध्यान नहीं जा रहा। जिसके चलते छिटपुट घटनाएं बड़ी घटना का रूप भी ले सकती है।थाना सीपरी बाजार में खड़ेश्वरी बाबा मंदिर के सामने स्थित भौकाल हुक्का बार अखाड़ा बन गया है। ऐसा कोई महीना खाली नही जाता की यहां मारपीट सर फटे न हो। लेकिन पुलिस की सरपरस्ती में चलने वाला यह अवैध हुक्का बार संचालक पर पुलिस इतनी मेहरबान है की इसे हर बार छोड़ देती है। इसी प्रकार सीपरी बाजार क्षेत्र में पंचतंत्र पार्क के पास स्थित बिल्डिंग में, रामा बुक डिपो चौराहे पर बने कॉम्प्लेक्स में भी बने अवैध हुक्का बारों में केविन बनाएं गए है जहां युवक अपने जाल में युवतियों को फंसा कर लाते और उन्हे हुक्का की आड़ में बार संचालक की मदद से गांजा चरस जैसी नशीले पदार्थो का सेवन कराकर उन्ही की अस्मत तक लुटते है। ऐसा नही की इन हुक्का बारों में अवैध गांजा, नशीले पदार्थ का सेवन और केविनो के अंदर युवतियों के साथ हो रहे गंदे कामों की जानकारी पुलिस को न हो, लेकिन मासिक सिस्टम आने से सब फिट रहता है।सूत्रों से मिली जानकारी के सीपरी बाजार खड़ेश्वरी बाबा मंदिर के सामने बने भौकाल हुक्का बार में आज दोपहर कुछ युवक शराब के नशे में पहुंचे उस दौरान इसके अंदर बनी सभी केविन में बने युवक युवतियों के जोड़े बैठे थे। जिस पर हुक्का बार कर्मचारियों ने शराबी युवकों को मना किया तो विवाद बढ़ गया। विवाद इतना बढ़ गया की शराबी युवकों में हुक्का बार कर्मचारियों में जमकर मारपीट हुई। इस दौरान हुक्का बार में तोड़फोड़ भी हुई, वहीं कुछ अन्य युवक भी आ गए जहां पर गुंडई सवार हुक्का बार कर्मचारियों ने सभी को लाठियो से दौड़ा दौड़ा कर पीटा, सड़क पर यह नजारा देख वहां अफरा तफरी का माहोल बन गया। इस घटना में एक युवक का हाथ भी टूट गया है। वही पुलिस हिरासत में आए दो युवकों का कहना है हुक्का बार में जिन्होंने तोड़फोड़ की वह लोग भाग गए और इन लोगों के साथ हुक्का बार वालों ने मारपीट की। वहीं पुलिस ने अवैध रूप से संचालित इस भौकाल हुक्का बार बालों को क्लीन चिट देते हुए थाने से रवाना कर दिया दो अन्य युवकों को हिरासत में लिया गया है। सूत्र बताते है यह वही भौकाल हुक्का बार है, जिसमे कई बार मारपीट की घटना हो चुकी, हर बार घटना का कारण युवतियों से छेड़छाड़ ही निकलता है। आखिर इस फसाद की अवैध जड़ को समाप्त क्यो नही किया जाता। यह बड़ा सवाल बना हुआ है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!