March 4, 2024

कब्रिस्तान में मंदिर की शिकायत का मामला गर्माया,कोतवाल पुलिस, खुफिया विभाग और हिंदू संगठन पहुंचे

झांसी। बड़ागांव गेट बाहर स्थित कब्रिस्तान में मंदिर पर कब्जे की शिकायत पर शहर कोतवाली पुलिस, खुफिया विभाग सहित हिंदू संगठन मौके पर पहुंचे। इस दौरान पुलिस व खुफिया विभाग ने मंदिर की तरह बनी गुम्बद की फोटो ग्राफी और नकसा नजरी बनाकर शिकायत कर्ता व कब्रिस्तान के कमेटी मेंबरो को जब तक जांच चल रही तब तक शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए। वही हिंदू संगठन नेता अंचल अड़जरिया ने दावा किया है यहां दो सौ वर्ष पुराना मंदिर था जिसे कब्रिस्तान के अंदर कैद कर उसके अवशेष मिटाने का काम किया गया है।

बड़ागांव गेट बाहर वार्ड नंबर 50 के पार्षद किशोरी प्रसाद रायकवार ने शुक्रवार को जिलाधिकारी ओर नगर मजिस्ट्रेट को लिखित शिकायती पत्र देकर बताया था की बड़ागांव गेट बाहर स्थित भूत नाथ मंदिर के पास बने कुब्रिस्तान में स्थित दो सौ वर्ष पुराना मंदिर को कब्रिस्तान की बाउंड्री बॉल बनाकर उसे कब्जे में लेकर उस पर अवैध कब्जा कर लिया और मंदिर के अवशेष मिटा दिए मंदिर में रखी मूर्तियों को गायब कर दिया गया है। इसकी जांच कर मंदिर को कब्जा मुक्त कराया जाए। वही हिंदू संगठन नेता अंचल अड़जरिया ने भी मंदिर कब्जा मुक्त कराने की मांग की थी। इस शिकायत पर आज शहर कोतवाली पुलिस ओर एल आई यू मौके पर पहुंची। उन्होंने अपने मोबाइल से कब्रिस्तान की वर्तमान स्थिति और बताए गए मंदिर की वीडियो फोटो ग्राफी की। साथ कब्रिस्तान और शिकायत कर्ताओं को जांच के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए। वही कब्रिस्तान कमेटी के सेकेट्री अरसद उल्ला खा ने बताया की दो सौ वर्ष पुराने इस कब्रिस्तान का मुकदमा दो बार न्यायालय में सन 41 में तथा सन 32 में चल चुका उस समय मुकदमों में कही मंदिर का कोई जिक्र नहीं किया गया था। दोनो बार न्यायालय ने कब्रिस्तान को वैध माना है। उन्होंने बताया की कब्रिस्तान की बाउंड्री बॉल भी प्रदीप जैन आदित्य ने विधायक रहते हुए अपनी विधायक निधि से बनवाई थी। फिलहाल मामला अब जिला प्रशासन के पास है। जांच के बाद ही जिला प्रशासन तय करेगा मंदिर को कब्रिस्तान में कब्जा लिया है या नही।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!