May 24, 2024

भाई बहन मिलकर चलाते थे लुटेरों का गैंग, लूट चोरी की सात बाइक, मोबाइल ओर नकदी सहित तमंचा कारतूस बरामद

झांसी। बड़ागांव व चिरगांव थाना पुलिस ने एक ऐसे अंतरप्रांतीय लुटेरे गैंग को गिरफ्तार कर कई लूट की घटनाओं का खुलासा किया जिस गैंग को भाई बहन मिलकर संचालित करते थे। लुटेरों के साथ गिरफ्तार हुए युवती जेल में बंद अपने हिस्ट्री शीटर पिता को आर्थिक मदद पहुंचाने के लिए गिरोह संचालित कर लूट की घटनाओं को करवा कर माल को बेचने का काम करती थी।रविवार को पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान एसपी सिटी विवेक त्रिपाठी ने जानकारी देते हुए बताया एसएसपी शिवहरि मीना के निर्देशन मे लूट की घटनाओं का सफल अनावरण करने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत सीओ सदर के नेतृत्व में चिरगांव थाना व बड़ागांव थाना पुलिस देर रात संयुक्त रूप से वाहन चैकिंग कर रहे थे। तभी ग्राम बराठा के पास पीपा पुल के पास कुछ युवक बाइक से आते दिखाई दिया जिसे रोकने पर वह भागने लगा। चिरगांव और बड़ागांव थाना पुलिस ने घेराबंदी कर सभी को दबोच लिया। पूछताछ में पकड़े गए बाइक सवार युवकों में एक युवती भी है। पूछताछ में सभी ने अपने नाम बबीना थाना क्षेत्र के बुद्ध पुरा निवासी आशिक राजपूत, ललितपुर के पुरक्ला निवासी मुकेश राजपूत, बबीना के हीरापुरा निवासी अमित पाल, मध्य प्रदेश जिला दतिया के पण्डोखर निवासी सुमित पाल तथा चिरगांव के करगुवा खुर्द निवासी हर्ष कुमारी उर्फ मुस्कान बताया। पूछताछ में सभी ने बताया की वह लोग हाईवे पर सुनसान राहों पर लोगों का पीछा कर उन्हे तमंचों से डरा धमका कर उनकी बाइक जेवरात मोबाइल फोन लूट की घटनाएं करते थे। एसपी सिटी ने बताया पकड़ी गई युवती हर्ष उर्फ मुस्कान का पिता अपराधी है वह जेल में बंद है। अपने पिता को आर्थिक लाभ पहुंचाने के लिए मुस्कान खुद गैंग संचालित करती थी और वही लूट का माल अपने पास रखती थी। एसपी सिटी ने बताया हर्ष उर्फ मुस्कान तथा आशिक राजपूत दोनो रिश्ते में भाई बहन है। इनके कब्जे से पुलिस ने सात बाइक, पांच मोबाइल फोन, तीन तमंचे, सात जिंदा कारतूस पांच हजार की नकदी बरामद कर ली।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!