March 4, 2024

लेखपाल पैमाइश, दाखिला खारिज, अवैध कब्जे सहित भूमि सम्बन्धित प्रकरण के निस्तारण हेतु विभिन्न धाराओं से जुड़े कार्य प्राथमिकता से करें तहसील स्तर पर भूमि संबंधित विवादों के निपटान के लिए 107/16,धारा 24 एवं धारा 151 की कार्यवाही करते हुए शिकायतों का निस्तारण करने के निर्देश

झांसी। तहसील टहरौली के सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार ने उपस्थित समस्त अधिकारियों से कहा कि संपूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समयसीमा में और गुणवत्ता परक किया जाना सुनिश्चित किया जाए, प्राप्त शिकायतों को स्वयं संज्ञान में ले और निस्तारित शिकायतों का मौके पर स्वयं परीक्षण करें । उन्होंने यह भी आव्हान किया कि शासन की योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति को ही मिले, पात्रता की सूची में अपात्र किसी भी दशा में शामिल ना हो इसे भी सुनिश्चित किया जाए, शिकायतकर्ता द्वारा की गई शिकायत के निस्तारण से संतुष्ट होना भी सुनिश्चित करें। संपूर्ण समाधान के अवसर पर जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार ने कहा कि जनसुनवाई माननीय मुख्यमंत्री जी की सर्वोच्च प्राथमिकता योजना है, जिसके तहत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन/आईजीआरएस पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण व समय अंतर्गत निस्तारण किए जाने हेतु समय-समय पर निर्देशित किया जाता रहा है,परंतु अधिकारियों द्वारा रुचि न लेने पर जिले की रैंकिंग पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। उन्होंने उपस्थित विभिन्न विभागों के अधिकारियों से कहा कि अपने विभाग के जिन क्षेत्रों से अधिक शिकायतें प्राप्त हो रही हैं, उन क्षेत्रों में स्वयं भ्रमण कर जांच करें कि किन कारणों से शिकायतें बार-बार प्राप्त हो रही हैं एवं उन शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण प्रभावी ढंग से निस्तारण कराना सुनिश्चित करें। जिससे उस क्षेत्र में बार-बार शिकायत से प्राप्त ना हो एवं यह भी निर्देशित किया जाता है कि अधिक शिकायत प्राप्त होने वाले क्षेत्र में भ्रमण/स्थलीय निरीक्षण कर निरीक्षण आख्या प्रभारी अधिकारी आईजीआरएस के कार्यालय में उपलब्ध कराना सुनिश्चित करे। उन्होंने टहरौली सभागार में विद्युत विभाग,जिला पंचायत राज अधिकारी, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी, कृषि विभाग सहित अन्य विभागीय अधिकारियों से अधिक शिकायतों वाले गांव में भ्रमण की जानकारी ली उन्होंने कहा यदि अधिकारी द्वारा गलत रिपोर्ट दी जाती है तो सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार ने तहसील टहरौली में सम्पूर्ण समाधान दिवस में अधिक संख्या में आए भूमि सम्बन्धित अवैध कब्जों की शिकायतों पर नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि सभी राजस्व कर्मी एवं लेखपाल अपने मूल कार्यो में रुचि लें और अपने क्षेत्र में जाये तथा सेक्टर आदि की स्वयं नाप करें ताकि भूमि विवाद उत्पन्न ही ना हो।उन्होंने समस्त लेखपालों को निर्देश दिए कि इस समय खेत खाली है अतः चकरोड की पैमाइश कराते हुए चकरोड को कब्जा मुक्त कराने का कार्य करें। उन्होंने कहा कि आप अपने मूल कार्यों को संवेदनशील होकर करें, उन्होंने यह भी कहा कि भूमि विवाद ना निपटने की स्थिति में 107/16 की कार्यवाही करें या धारा 145 पर भी कार्यवाही की जा सकती है, उन्होंने धारा 24,धारा 107 /16,सरकारी भूमि पर कब्जा होने पर धार 151 की कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए। शिकायतकर्ता के बार बार आने पर उन्होंने असंतोष व्यक्त करते हुए निस्तारण को अनावश्यक लंबित रखने पर नाराजगी व्यक्त की। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त विभागीय अधिकारी को निर्देश दिये कि प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समयावधि में गुणवत्तापरक किया जाये। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी शिकायतों के निस्तारण हेतु स्वयं मौके पर जाएं और निस्तारण करें। उन्होने कहा कि यदि प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समयावधि व गुणवत्तापरक न होने, प्रार्थना पत्र लम्बित रखने, शिथिलता बरतने, निस्तारण में रुचि न लेने वाले अधिकारियों के विरुद्व कठोर व दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कहा कि शिकायती पत्रों के निस्तारण की आख्या शिकायतकर्ता को अवश्य अवलोकन कराएं और यदि वह संतुष्ट है तो उसके संतुष्टि हस्ताक्षर अवश्य ले। उन्होंने संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर उपस्थित अधिकारियों को जिन्हें जनपद में स्थाई/अस्थाई गौशाला जांच के नोडल अधिकारी बनाया गया है, वह गौशाला का निरीक्षण कर लें।उन्होंने कहा कि गौशाला में पर्याप्त पानी की व्यवस्था, गंदगी मुक्त वातावरण,भूसा आदि की उपलब्धता सुनिश्चित कर करते हुए गोवंश को लू से बचाए जाने के उपायों का भी निरीक्षण कर लें। सम्पूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी ने अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि क्षेत्र भ्रमण के दौरान किसानों को अपने खेत में आग ना लगाने और कृषि अवशेष को गौशाला तक पहुंचाए जाने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने बताया कि किसानों को जानकारी दें कि खेत में आग लगाने से मृदा की उर्वरा शक्ति क्षीणं होती है जिसका उत्पादन और उत्पादकता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। जिलाधिकारी ने शासन द्वारा संचालित अनेको लाभकारी योजनाओं से संबंधित विभागों को निर्देश दिए कि योजनाओं में प्राप्त आवेदनों के निस्तारण को समय सीमा में करना सुनिश्चित करें ताकि लाभार्थी को समय से लाभ प्राप्त कराया जा सके। उन्होंने कहा कि समाधान दिवस में अन्य विभागों की भी शिकायतें प्राप्त हुई हैं सभी गुणवत्तापरक निस्तारण करना सुनिश्चित करें। तहसील टहरौली सभागार में संपूर्ण समाधान की कार्यवाही से पूर्व जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार ने आतंकवाद विरोधी दिवस पर समस्त अधिकारियों कर्मचारियों को शपथ दिलाई, ज्ञातत्व है कि देश में अहिंसा एवं सहनशीलता की परंपरा कायम रखने आतंकवाद और हिंसा के विरोध में जन जागरण के लिए प्रतिवर्ष 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री शिवहरी मीणा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अनिल कुमार, एसडीएम श्री इंद्रकांत द्विवेदी, डीपीआरओ श्री जे आर गौतम, पीडी डीआरडीए श्री उपेंद्र पाल,जिला कृषि अधिकारी केकेसिंह सहित समस्त विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी अधिकारी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

ये भी देखें

error: Content is protected !!