May 24, 2024

सर्वश्रेष्ठ विवेचना में डीजीपी से पुरस्कृत एसएचओ अशोक बने जखोरा थाना प्रभारी

झांसी। जिला ललितपुर रेप के बाद थर्ड डिग्री टॉर्चर के आरोप में दागदार हो रही खाकी की दिशा ओर दशा बदलने के लिए अब थाना प्रभारियों की ओवर हालिंग शुरू हो गई। साफ स्वच्छ छवि के थानेदार पोस्ट करने का क्रम शुरू हो गया है। प्रदेश भर में सर्वश्रेष्ठ विवेचना करने में डीजीपी से पुरस्कृत हुए निरीक्षक अशोक वर्मा को जखोरा थाना प्रभारी बनाया। रेप की घटना के बाद पुलिस महकमे में मचे हड़कंप के चलते पुलिस के उच्चधाधिकारी ललितपुर भ्रमण पर है। रेप की घटना के बाद चोरी के आरोप में महिला को थर्ड डिग्री टॉर्चर के आरोप में दागदार हो रही खाकी के दाग धोने जैसा कार्य किया जा रहा है। जिसके चलते तत्काल प्रभाव से झांसी में चिरगांव में तैनात निरीक्षक अशोक वर्मा को रिलीव करते हुए उन्हे ललितपुर भेजा। देर रात ललितपुर एसपी ने उन्हे जखोरा थाना का प्रभारी बना दिया। वही जखोरा में तैनात प्रभारी धर्मेंद्र सिंह चौहान को वहां से हटाकर उन्हे पाली थाना प्रभारी बनाया। गत दिवस ललितपुर रेप प्रकरण की जांच करने आए एडीजी ने समीक्षा करते हुए स्पष्ट निर्देश दिए है साफ स्वच्छ छवि वालों को ही थाना का चार्ज दिया जाए। आपको बता दे की निरीक्षक अशोक वर्मा प्रदेश में सर्व श्रेष्ठ विवेचना करने में डीजीपी और ग्रह मंत्रालय से पुरस्कृत हो चुके है और उनका जनपद झांसी जालौन में थाना प्रभारी के रूप में कार्यकाल की आज भी सराहना होती है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!