July 17, 2024

बरूआमाफ में हुई हत्या का फरार आरोपी भांजा हुआ गिरफ्तार

झांसी। पिछले दिनों हुई हत्या की घटना का पर्दाफाश करते हुए हत्यारोपी को लहचूरा थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त आला नकब बरामद कर लिया है। हत्या का कारण मजदूरी न मिलने पर हुई नोकझोक के चलते की गई है। इस अंधे कत्ल का 72 घंटे में राजफास करने वाली लहचूरा थाना पुलिस को एसएसपी ने पुरस्कृत करने की घोषणा की। बुधवार को पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान एसएसपी शिवहरि मीना ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया की लहचूरा थाना क्षेत्र के बरूआ माफ में 29 अप्रैल को 52 वर्षीय व्यक्ति भैया लाल की उस समय पत्थरों से कुचल कर डंडा से हमला कर हत्या कर दी थी जब वह धसान नदी किनारे बनी अपनी झोपड़ी में सो रहा था। हत्या के बाद आरोपी मृतक का मोबाइल फोन और कस्ती लेकर भाग गया था। घटना क्रम से जानकारी प्राप्त हुई की मृतक ने कुछ लोगों के साथ शराब पार्टी की थी लेकिन कोई ज्यादा साक्ष्य नहीं मिले। हत्या का शक उनके परिचितों पर भी गया था। लेकिन पुलिस की तफ्तीश जारी थी। तभी पुलिस जांच ओर मोबाइल ट्रेस करने पर पुलिस असली आरोपी तक पहुंच गई। पुलिस ने हत्यारोपी राजेंद्र धीमर निवासी ग्राम बंका पहाड़ी गुरसराय को सोनक पुरा रिस्तेदारी में जाति समय गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त बबूल का डंडा, नाव का चप्पू, मृतक का मोबाइल फोन, मृतक की कस्ती बरामद कर ली। एसएसपी ने बताया की हत्यारोपी मृतक का भांजा है, भांजा मृतक के पास मजदूरी करता था। मजदूरी न मिलने पर घटना वाली रात दोनो में कहा सुनी हुई और राजेंद्र ने मामा की हत्या कर दी। यह हत्या मात्र तीन सौ रूपयो को लेकर की गई। हत्या का आरोपी अपनी पांच सौ रुपए मजदूरी मांग रहा था और वह दो सौ रुपए दे रहा था। इस अंधे कत्ल का राजफाश करने पर एसएसपी ने लहचूरा पुलिस को 25 हजार का इनाम देने की घोषणा की है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा