July 12, 2024

लोकतंत्र की भावनाओ से खिलबाड़ बर्दास्त नही होगा:मुकेश वर्मा

झांसी। मंगलवार को झांसी मीडिया क्लब के तत्वावधान में अध्यक्ष मुकेश वर्मा के नेतृत्व में पत्रकारों ने मुख्य मुख्य मंत्री संबोधित ज्ञापन जिला अधिकारी को देते हुए बताया की प्रशासन अपनी कारगुजारियो को छुपाने के लिए हमेशा पत्रकारों को ही दोषी ठहराता है। अधिकतर मामलों में जब भी कोई पत्रकारों का प्रकरण आता है उसे गंभीरता से नहीं लिया जाता ओर पत्रकारों पर दबाव बनाने लोकतंत्र का हनन करने के लिए हमेशा पत्रकारों पर क्रॉस मुकदमे लिखे जाते है, जबकि उत्तर प्रदेश सरकार के स्पष्ट निर्देश है, पत्रकार पर बिना जांच पड़ताल किए कोई मुकदमा दर्ज नही किया जाए। ज्ञापन में बताया की इसके बाबजूद भी पत्रकारों पर द्वेष भावना पूर्ण तरीके से मुकदमे दर्ज कर लोक तंत्र की भावना से खिलबाड़ किया जा रहा है। अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश के जिला बलिया पेपर लीक मामले में खबर को उजागर करने पर जिस प्रकार वालिया जिला प्रशासन ने द्वेष भावना पूर्ण तरीके से पत्रकारों को दोषी ठहरा कर उनके खिलाफ मुकदमे दर्ज कर उन्हे जेल भेज दिया यह न्याय संगत नहीं है।वही जनपद झांसी में स्वतंत्र पत्रकार साक्षी राय के साथ झांसी के निजी स्कूल में अभद्रता करने ओर मारपीट प्रकरण में पुलिस ने स्कूल प्रशासन के दवाब में आकर साक्षी राय के खिलाफ फर्जी तरीके से मुकदमा दर्ज कर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। झांसी मीडिया क्लब ने मुख्यमंत्री से ज्ञापन देकर मांग की है कि, जिला बलिया में षड्यंत्र के तहत फर्जी मुकदमा दर्ज कर जेल भेजे गए पत्रकारों को रिहा किया जाए उन पर दर्ज मुकदमे को निरस्त किया जाए और बलिया जिला प्रशासन की भूमिका की जांच करा कर उनके खिलाफ जांच की जाए। साथ ही झांसी में पत्रकार साक्षी राय पर दर्ज मुकदमे को निरस्त कर उन्हे न्याय दिया जाए। वही ज्ञापन के माध्यम से चेतावनी दी है की लोकतंत्र के हनन के साथ खिलबाड़ बर्दास्त नही किया जायेगा अन्यथा की स्थिति में झांसी मीडिया क्लब बड़ा आंदोलन करेगा। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार रामकुमार साहू, पंकज रावत, रानू साहू, अमित रावत, मनोज दुबे, राहुल कोस्टा, राहुल उपाध्याय, दीपक त्रिपाठी, प्रमेंद्र सिंह, अतुल वर्मा, शेख गुल मोहम्मद, मनीष अली, नवल किशोर शर्मा, मोहम्मद इरशाद, प्रभात सहनी, राजेश चौरसिया, भरत कुलश्रेष्ठ, बृजेंद्र कुशवाह, बट्टा गुरु, विनय सिंह, आदि पत्रकार उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा