July 17, 2024

भ्रष्टाचार का चलते अधूरे लटके निर्माण कार्य, विधायक ने कहा वसूली भी कराएंगे और कार्यवाही भी

झांसी। केंद्र सरकार प्रदेश सरकार भले ही आम जन को फ्री राशन, फ्री आवास देने की योजना जन जन तक पहुंचाने का कार्य कर रही हो। लेकिन विभाग में बैठे कुछ भ्रष्ट कर्मचारियों के चलते इस योजना का मुफ्त लाभ आम जन तक नहीं पहुंच पा रहा। ग्रामीण क्षेत्रों में आवास के लिए सरकार का पैसा लेने वाले लाभार्थियों को रिश्वत देना पड़ रही। जिसके चलते सरकार के नाम पर बनने वाले आवासों में ग्रामीणों को अपनी जेब का पैसा लगाना पड़ रहा ओर जिनके पास पैसा नहीं उनके आवास निर्माण अधूरे पड़े है। वही इस मामले में बबीना विधायक राजीव सिंह ने कहा की मोदी योगी की डबल इंजन वाली सरकार भ्रष्टाचार के के खिलाफ है, जिन लोगों ने ग्रामीणों से आवास के नाम पर रिश्वत ली है, उनके खिलाफ कार्यवाही भी होगी और वसूली भी कराएंगे।ऐसा ही मामला जनपद में स्थित दस किलो मीटर दूर रक्सा क्षेत्र में देखने को मिला। जहां लाभार्थियों के आवास के निर्माण भ्रष्टाचार के चलते। अधूरे पड़े है, या फिर कई लोगों ने अपनी जेब से पैसा देकर आवास तैयार कराए।रक्सा के आदिवासी कॉलोनी निवासी गुलशन ने प्रधान मंत्री आवास योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन किया। उन्हे लाभ तब मिला जब उन्होंने रोजगार सेवक को दस हजार रुपए की रिश्वत दी। जिसके चलते गुलशन के मकान का निर्माण तो हो गया लेकिन अब उसके पास इतना पैसा नहीं की वह उस पर प्लास्टर करवा दे, क्योंकि अगर उसके पास पैसा होता तो सरकार की योजना का लाभ नहीं लेता और योजना का लाभ लेने के लिए उसी योजना के पैसे से रिश्वत दी।वही दूसरा मामला आदिवासी कॉलोनी निवासी करण पाल ने बताया उसे आवास के लिए एक लाख बीस हजार रुपए मिला जिसमे पंद्रह हजार रुपया रिश्वत देना पड़ी जिसके चलते उसके मकान की छत नही डल पा रही ओर कागजों में उसे सरकार का लाभ मिलकर आवास पूरा तयार दिखा दिया गया। वही सोनू राजपूत ने बताया की उसने आवास का लिए एक लाख बीस हजार मिला लेकिन उसके मकान का लेंटर डलना बाकी रह गया क्योंकि नौ हजार रुपए उसे रिश्वत देनी पड़ी। जबकि यही भ्रष्ट लोगों ने इन लाभार्थियों का कागजों में पूरा आवास निर्माण दर्शा दिया। सरकार तो जनता के लिए लगातार कार्य कर रही लेकिन इन भ्रष्ट कर्मचारियों के चलते सरकार की आवास योजना खटाई में जा रही। बबीना विधायक राजीव सिंह परीक्षा ने कहा की जिन लोगों ने सरकार की योजना के नाम पर रिश्वत ली है उनके खिलाफ कार्यवाही भी कराएंगे और वसूली भी कराएंगे साथ ही जिन ग्रामीणों के आवास निर्माण अधूरे रह गए उन्हे पूरा कराएंगे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा