June 22, 2024

वेदों व पुराणों में महिमा है सहस्त्र चंडी महायज्ञ की

झांसी। लक्ष्मी तालाब स्थित प्राचीन श्री महाकाली विद्यापीठ में आयोजित श्री दिव्य शक्ति सहस्त्र चंडी महायज्ञ में परिवार की सुख समृद्धि की कामना के साथ श्रद्धालुओं ने आहुतियां अर्पित की। यज्ञ आचार्य अनुज कृष्ण शास्त्री ने कहा कि वेदों पुराणों में सहस्त्र चंडी महायज्ञ की महिमा का वर्णन है। उन्होंने कहा कि संतान उत्पत्ति और संतान सत्य मार्ग में चले की कामना भी महायज्ञ अवसर पर मां महाकाली से की जाती है। मां समस्त मनोकामना को पूर्ण करती है। यज्ञ में शुक्रवार को श्रद्धालुओं ने परिवार संग देवी मंत्रों का उच्चारण कर आहुतियां अर्पित की। इसके बाद महिलाओं ने कोरोनावायरस की समाप्ति व विश्व शांति के लिए सामूहिक रूप से प्रार्थना की तथा देवी भजन भी गाये। इस अवसर पर नगर विधायक की माताजी शांति शर्मा, सुनीता शर्मा, सुजाता, दीक्षा, आकांक्षा, साक्षी आदि मौजूद रही। संचालन प्रियता रावत ने किया। वही महायज्ञ अवसर पर अंचला अडजरिया, विजय त्रिवेदी, अमित रावत, अभि, अभिलाषा, गोपाल त्रिवेदी, नूपुर, मधुर अग्रवाल, हरिश्चंद्र भटनागर, अंकुर थापक, अभिषेक गुप्ता, अंकुश राय, एस उपाध्याय, सुनील गुप्ता, विकास प्रजापति, नरेंद्र, सुरेंद्र त्रिवेदी आदि मौजूद रहे। समाजसेवी पीयूष रावत ने संचालन कर कहा कि मां के समस्त भक्त सहस्त्र चंडी महायज्ञ में हिस्सा लें और मां का आशीर्वाद प्राप्त करें। आभार अक्षत त्रिवेदी ने व्यक्त किया।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा

error: Content is protected !!