July 14, 2024

यूपी का चर्चित एसडीएम ज्योति मौर्य के बाद कार पेंटर और पत्नी लेखपाल का मामला बना सुर्खियों में

झांसी। उत्तर प्रदेश में बहु चर्चित एसडीएम ज्योति मौर्य केस की तरह जनपद झांसी का लेखपाल बनते ही कार पेंटर पति को छोड़ने का मामला सुर्खियों बटोरने में लगा हुआ है। जहां कार पेंटर युवक ने नव नियुक्त लेखपाल को अपनी पत्नी बताया और आरोप लगाया था कि लेखपाल बनते ही उसे छोड़ दिया। वही महिला लेखपाल भी आज मीडिया के सामने आ गई। महिला ने युवक के सारे आरोपों को नकारते हुए उस पर ब्लैकमेल करने और शादी के दस्तावेजों को फर्जी बताया है। इस मामले को लेकर प्रशासनिक महकमा ही नही बल्कि पूरे जनपद में यह मामला जानकर सुर्खियों में है। आपको बता दे की बुधवार को जनपद झांसी में कलेक्टर सभागार में नव नियुक्त 110 लेखपालों को नियुक्ति पत्र मिल रहे थे। उसी दौरान एक युवक बड़ागांव गेट बाहर निवासी नीरज पहुंचा और खुद को नव नियुक्त महिला लेखपाल ऋचा सोनी का पति बताते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने काफी समय पहले लव मैरिज की थी। लेकिन पांच माह पूर्व जब उसकी पत्नी ऋचा का लेखपाल में चयन हो गया था तो उसने उसे छोड़ दिया था। तब से वह उसके साथ नही रह रही। लेखपाल बनते ही पत्नी द्वारा पति को छोड़ने का यह मामला सुर्खियों में बन गया। वही आज लेखपाल पत्नी ऋचा ने मीडिया के सामने आकर आरोप लगाए की यह युवक उसे काफी समय से परेशान कर रहा है, उसकी कई बार पुलिस में शिकायत की। लेकिन पुलिस ने उसे हर बार समझा बुझा कर छोड़ दिया। यह नीरज उसे कई बार शराब के नशे में मारपीट भी करता था। ऋचा ने कहा की वह उसे ब्लैकमेल कर रहा है। उसका कहना है कि शादी के फोटो फर्जी है और दस्तावेज फर्जी है। उसने कोई शादी नही की। ऋचा का कहना है कि नीरज द्वारा उसके साथ झूठ बोल कर शादी की फोटो खिंचवाई गई थी जिसको लेकर वह काफी समय से उसे ब्लैकमेल कर रहा है। वही नीरज का कहना है कि उसने दिन रात मेहनत करके कार पेंटर का कार्य करके जो पूंजी कमाई थी उसी पूंजी से ऋचा का सपना पूरा करने के लिए उसे पढ़ाई लिखाई करवा रहा था। साथ ही उसकी फीस भी वही भरा करता था। फिलहाल आरोप प्रत्यारोपों के इस दौरान में कार पेंटर पति और पत्नी लेखपाल की लव स्टोरी फिर शादी और फिर दोनो के बीच तकरार का यह केस जमकर सुर्खियों में बना हुआ है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा