July 14, 2024

गौरैया इंटर कॉलेज में दवाओं को जलाया, प्रबंधक ने प्रधानाचार्य से मांगा स्पष्टि करण

झांसी। सरकार की जनहित की योजना को पलीता लगाने और छात्र छात्राओं के स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने का एक वीडियो शोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस प्रकरण में कॉलेज प्रधानाचार्य से स्पष्टी करण दो दिन के अंदर मांगा गया है।शोशल मीडिया पर वायरल हुए दवाओं को जलाने के वीडियो को संज्ञान में लेते हुए कोलेज प्रबंधक ने प्रधानाचार्य को पत्र जारी करते हुए सरकार की महत्वाकांक्षी योजना में आग लगाने पर स्पष्टी करण मांगा है।आपको बता दे गत रोज शोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में कोलेज का चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी दवाओं की दो पेटियों को आग लगाते हुए देखा जा रहा है। इस आग में सैंकड़ों दवाएं आग से राख के ढेर में तब्दील हो गई। बताया जा रहा है कि स्कूल कॉलेजों के बच्चों को स्वास्थ्य रखने के लिए छात्रों को एलवेंडा जॉन और छात्राओं को आयरन की टेबलेट महीने की आठ तारीख को खिलाई जाती है, जो छात्र छात्राएं दवा खाने से वंचित रह जाते है उन्हे महीने की दस तारीख को खिलाई जाती है। यही दवाएं एलवेंदा जॉन और आयरन की दो पेटियों को आग से जलाकर राख कर दिया गया है। इस मामले में वीडियो वायरल के बाद गौरैया इंटर कॉलेज के प्रबंधक ने प्रधानाचार्य से स्पष्टी करण मांगा है, की अगर दवाएं बच गई थी तो उन्हें वापस क्यों नही किया गया आग के हवाले क्यों करवाया गया।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा