July 14, 2024

सैलून की आड़ स्काई पार्लर में विदेशी युवतियों से कराया जा रहा अनेतिक कारोबार

झांसी। वीरांगना महारानी लक्ष्मी बाई की कर्मभूमि झांसी को वीरों की नगरी कहा जाता है, ओर यहां की वीरांगना के अलावा योद्धाओं क्रांतिकारियों का नाम और उनके जज्बे की देश विदेशों में चर्चाएं होती है। लेकिन बाहर से आने वाले आसमाजिक तत्व इन क्रांतिकारियों, योद्धाओं और वीरांगना का नाम बदनाम करने पर आतुर है। सैलून की आड़ में अनैतिक कारोबार कर बदनाम किया जा रहा है। प्रशासन भी इस नियम विरुद्ध बने मसाज पार्लरो पर जांच पड़ताल नही करता। जिससे इनके हौसले इतने बुलंद हो गए की झांसी की भोली भाली जनता को लूटने के लिए शहर क्षेत्र में कुकरमुत्ते की तरह नियमों को ताक पर रख जगह जगह खुलते जा रहे है। यह लोग बिल्डिंग मालिक को किराए के नाम पर ऊंची कीमत देते है और अपना अनेतिक कारोबार शुरू कर देते है। ऐसा ही एक मसाज पार्लर झांसी के इलाईट चौराहा से अशोक तिराहे के बीच स्काई पार्लर के नाम से खुला हुआ है। यहां दिखावे के लिए सैलून बनाया गया गया। लेकिन इसके अंदर बने आधा दर्जन से अधिक कमरों में दरवाजे लगाए गए है। जबकि मसाज पार्लर में नियम है की कमरों में दरवाजे नही पर्दे होंगे ताकि अंदर कोई गलत कार्य न हो। लेकिन इस स्काई पार्लर में हर कमरे में दरवाजे और एयर कंडीशनर कूलिंग रहती है। जिसमे यह लोग नगर के युवाओं को अपने यहां तैनात युवतियों से फोन करवाते है, फोन पर यह लोग युवाओं को मसाज के नाम पर सेक्स कराने तक की बात कहकर अपनी ओर खींचने का काम करते है। युवाओं को यह लोग विदेशी युवतियों से फेस कराते है फिर मोटी रकम लेकर यहां बैठा मैनेजर अलग अलग युवतियों को भेजता है, बताया जाता है की विदेशी युवतियों को दिखाकर युवाओं को अपनी ओर एग्रेसिव करने का काम करते है। यह पार्लर पर बैठने वाला मैनेजर मैन दरवाजा बंद रखवाता है और सीसीटीवी कैमरे से पूरी निगरानी रखता है। स्काई पार्लर बेखौफ होकर खुलेआम यह कारोबार करवा रहा ओर लोगों को फोन पर ही पार्लर में मसाज के नाम पर सेक्स अनेतिक कारोबार करने जैसी वार्ता खुलेआम करता है। इस पार्लर का शोशल मीडिया पर दो बार ऑडियो भी वायरल हो चुका। इसके बावजूद भी जिम्मेदार यहां न तो जांच पड़ताल करता है और न ही यहां पर रहने वाले विदेशी युवतियों की कोई जांच पड़ताल करता है। जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते यह स्काई पार्लर जैसे लोग झांसी के युवाओं को जिस्म की आग बुझाने का झांसा देकर उनके घर परिवार तो बरवाद कर ही रहे साथ ही वीरांगना की नगरी को भी धूमिल करने का काम कर रहे है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा