July 14, 2024

नकली शराब बनाने के कारोबार का भंडाफोड़, एक लाख से अधिक कीमत की शराब, उपकरण बरामद

झांसी। लोकसभा चुनाव को सकुशल निष्पक्ष शांतिपूर्ण कराने के लिए बॉर्डर पर चलाई जा रही चेकिंग अभियान के तहत प्रेमनगर, बड़ागांव और नवाबाद पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लग गई। तीनो थानों की पुलिस टीम ने आबकारी टीम के साथ अवैध नकली शराब बनाने वाले कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से नकली शराब बनाने के उपकरण व शराब बरामद कर ली। जिसकी कीमत लगभग एक लाख रुपए से अधिक कीमत बताई जा रही है। बुधवार को पुलिस लाइन सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान एसएसपी राजेश एस ने जानकारी देते हुए बताया की लोक सभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए प्रेमनगर थाना पुलिस द्वारा मध्यप्रदेश बॉर्डर डगरिया तिराहे पर देर रात चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। तभी मुखबिर द्वारा मिली सूचना पर चार पहिया गाड़ी क्रमांक एमपी 20 सीडी 7982 को रोक कर उसकी तलाशी ली गई तो उसके अंदर से एक जेरिकेन जिसमे नकली शराब बनाने का ओपी भरा हुआ था। जिसे कब्जे में लेकर गाड़ी चालक दिनेश राय निवासी मेवाती पुरा से पूछताछ की गई तो उसने बताया की वह अपने साथियों के साथ नकली शराब बनाने का कारोबार करता है, ओर यह ओपी वह नकली शराब बनाने के लिए ले जा रहा है। इस शराब को वह लोक सभा चुनाव में खपाने की तैयारी में थे। पुलिस टीम ने दिनेश राय की निशानदेही पर छापेमारी करते हुए बड़ागांव और नवाबाद पुलिस तथा आबकारी टीम के साथ उसके अन्य साथी बड़ागांव थाना क्षेत्र के परीक्षा निवासी अशोक कुमार राजपूत, मोठ थाना क्षेत्र के ग्राम टांडा निवासी विवेक कुशवाह तथा प्रेमनगर के सर्ंधरा नगर निवासी राजेंद्र राय को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 12 नकली शराब की पेटी 45 क्वाटर, एक बोरा खाली क्वाटर 300 नग, क्वाटर के ढक्कन, रेपर, 6 जेरिकेन नकली इस्प्रेत, 60 लीटर स्प्रेट, और नकली पदार्थ सहित भारी मात्रा में ओपी बरामद कर ली। पकड़ी गई नकली अवैध शराब और सामग्री की कीमत करीब एक लाख 80 हजार रुपए बताई गई है। पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेजने की तैयारी शुरू कर दी है।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा