July 14, 2024

कृषक उत्पादक संगठन (एफ0पी0ओ0) की एक दिवसीय कार्यशाला का शुभारम्भ

झांसी। आयुक्त, झॉसी मण्डल झॉसी की अध्यक्षता में नवीन आयुक्त सभागार में आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजनान्तर्गत मण्डल के तीनों जनपदों में पंजीकृत कृषक उत्पादक संगठन (एफ0पी0ओ0) की एक दिवसीय कार्यशाला का शुभारम्भ मण्डलायुक्त द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। मण्डलायुक्त द्वारा जनपद झॉसी, ललितपुर एवं जालौन से समस्त विकास खण्डों से विभिन्न एफ0पी0ओ0 के निदेशक एवं सी0ई0ओ0 से परिचय करते हुये उन एफ0पी0ओ0 के द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किये जा रहे कार्याे पर जानकारी ली, जिसमें जनपद झॉसी से बलनी फार्मर प्रोड्यूसर कम्पनी झॉसी के निदेशक श्री शशिकान्त जी ने परिचय देते हुये बताया कि विगत 04 वर्ष पूर्व इस एफ0पी0ओ0 ने दुग्ध उत्पादन एवं विक्रय पर महिलाओं का एफ0पी0ओ0 बनाया जिसमें आज 66000 से अधिक महिला सदस्य है और यह बुन्देलखण्ड के 07 जनपदों में कार्य कर रहे है, जिसका वार्षिक टर्नओवर 500 करोड़ है। इसी प्रकार कठिया गेहूॅ के उत्पादन में भी जनपद झॉसी के एफ0पी0ओ0 कार्य कर रहे है, जिसे शीघ्र ही भारत सरकार से जियोग्राफिक्स इण्डीकेटर (जी0आई0) टेगिंग मिलने वाला है, इसी प्रकार बुन्देलखण्ड औषधि एफ0पी0ओ0 से आये श्री पुष्पेन्द्र कुमार जो कि तुलसी का व्यवसायिक उत्पादन कर पतन्जली से अनुबन्ध कर सफल एफ0पी0ओ0 चला रहे है। श्याम बिहारी गुप्त, निदेशक अमरौख जैब अर्थ ऊर्जा एफ0पी0ओ0 के व्दारा मण्डल में प्राकृतिक खेती व गौ आधारित खेती को स्वयं के खेत से शुरू करते हुये उसे एफ0पी0ओ0 के माध्यम से व्यवसायिक रूप दिया और जहरमुक्त खाद्यान्न पैदा करने पर जोर दिया। कार्यशाला के अन्तर्गत उप कृषि निदेशक ललितपुर ने जनपद ललितपुर में कार्यरत एफ0पी0ओ0 के बारे में प्रकाश डाला, उन्होने बताया कि ललितपुर में यू0पी0शक्ति पोर्टल पर 56 एफ0पी0ओ0 पंजीकृत है, जिनमें 42 एफ0पी0ओ0 क्रियाशील है। ललितपुर में लगभग 22000 किसान एफ0पी0ओ0 के जुड़कर कृषि कार्य कर रहे है। जनपद में एफ0पी0ओ0 के माध्यम से 04 बीज विधायन संयत्र, 19 कृषि निवेश केन्द्र, 32 फार्म मशीनरी बैंक, 01 दुग्ध संग्रहण केन्द्र की स्थापना हो चुकी है। एफ0पी0ओ0 व्दारा मुख्य रूप से प्रमाणित बीज उत्पादन, मिलेट्स उत्पादन, कृषि विविधीकरण आदि क्षेत्रों में कार्य किया जा रहा है। उन्होनें बताया कि उक्त के साथ एफ0पी0ओ0 के लिये दलहन और मोटे अनाजों का बुन्देलखण्ड ब्राण्ड के नाम से ब्राण्डिग कर मार्केटिंग करना, कटहल और नीबू का संग्रहण कर जैविक प्रमाणीकरण कराकर मार्केटिंग करना, अनुबन्धित खेती के माध्यम से औषधि फसलें व कठिया गेहूॅ की खेती आदि की सम्भावनाऐं है। इसी प्रकार जनपद जालौन से गढ़गुऑ एग्रीकल्चर जैब ऊर्जा एफ0पी0ओ0 गेहूॅ, मिलेट्स, चना, मटर तथा डकोर मटर प्रोड्यूसर कम्पनी लिमिटेड व्दारा सब्जी मटर आपूर्तिकर्ता कम्पनियों से एम0ओ0यू0 करके विक्रय किया जा रहा है। इसी प्रकार अन्य एफ0पी0ओ0 भी विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे है। कार्यशाला में लखनऊ से आये डा0अमित द्विवेदी, सलाहकार, टी0एस0यू0 ने यू0पी0एफ0पी0ओ0 शक्ति पोर्टल अन्तर्गत पंजीकरण डाटा, वैलीडेशन, रैकिंग एवं ग्रेडिंग तथा पोर्टल पर उपलब्ध मॉड्यूल्स पर चर्चा की एवं अविनाश शेखर, सलाहकार, टी0एस0यू0 ने कृषि प्रोद्योगिकी विषयान्तर्गत स्टार्टअप, बायोगैस प्लान्ट, उन्नतिशील कृषि यंत्र, क्लाइमेट स्मार्ट टूल्स, बायो गैस/सोलर ऊर्जा आधारित कोल्ड स्टोरेज, कृषि ड्रोन, भूमि एवं जल संरक्षण एवं फार्म मशीनरी विषय पर चर्चा की और एफ0पी0ओ0 की शंकाओं का समाधान मौके पर किया गया। भूपेन्द्र पाल जिला प्रबन्धक नावार्ड झॉसी के व्दारा एफ0पी0ओ0 की संकल्पना, गठन एवं कार्य, मार्केटिंग एवं एक्सपोर्ट विषयान्तर्गत विभिन्न मार्केटिंग सम्बन्धी लाइसेन्स, गुणवत्ता नियंत्रण, कलस्टर उत्पादन, जी0आई0क्राप, एफ0टी0ए0 एवं डब्लू0टी0ओ0 सम्बन्धी नियम कानून, मार्केटिंग एवं ट्रान्सपोर्टेशन अनुदान, एक्सपोर्ट लाइसेन्स, सी0बी0बी0ओ0 व्दारा तैयार किये जा रहे बिजनेस प्लान आदि पर विस्तृत में चर्चा की तथा एफ0पी0ओ0 प्रतिनिधियों के प्रश्नों का मौके पर ही समाधान किया गया। मण्डलायुक्त, ने मुख्य विकास अधिकारियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि कतिपय एफ0पी0ओ0 का चयन कर उनको उच्च स्तर पर पहुॅचाने का कार्य करें, जिससे वह एफ0पी0ओ0 राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना सके और बुन्देलखण्ड क्षेत्र की एक विशेष पहचान बन सके।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा