July 14, 2024

आयोजित सामूहिक विवाह कार्यक्रम में 96 जोड़े दांपत्य सूत्र में बंधे

झांसी। समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद की अध्यक्षता में बुन्देलखण्ड महाविद्यालय, झांसी में किया गया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम में सदस्य, विधान परिषद श्रीमती रमा निरंजन मुख्य अतिथि के रुप में उपस्थित रहीं। कार्यक्रम का शुभारंभ मंचासिन अतिथियों द्वारा माँ सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्ज्वलन एवं माल्यार्पण कर किया गया। तत्पश्चात् जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती ललिता यादव द्वारा मंचासीन अतिथियों का पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया। इस अवसर पर सदर विधायक रवि शर्मा द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारीगण, कर्मकारीगण, लाभार्थियों, परिजनों एवं रिश्तेदारों की उपस्थिति में मतदाता शपथ दिलायी गयी। ‘‘हम भारत के नागरिक लोकतंत्र में अपनी पूर्ण अस्था रखते हुये यह शपथ लेते है कि हम अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखेंगे तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शन्तिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण्ण रखते हुये, निर्भीक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी प्रलोभन से प्रभावित हुये बिना सभी निर्वाचनों में अपना मताधिकार का प्रयोग करेंगें।’’ कार्यक्रम में सदस्य, विधान परिषद श्रीमती रमा निरंजन ने कहा कि आप सभी को एक ही मंच पर जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों का आशीर्वाद प्राप्त हो रहा है। आपका जीवन सुखमय, समृद्ध हो एवं आप अपने परिवार को सुचारू रूप से चलाते हुए आगे बढ़े। उन्होंने कहा कि माता-पिता बेटी के जन्म से ही बेटी के विवाह को लेकर चिन्तित रहते थे, अभिभावकों की इसी समस्या के निराकरण हेतु मुख्यमंत्री द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना संचालित की गयी हैं। बेटियों के कल्याण के लिये मा0 मुख्यमंत्री जी द्वारा कन्या सुमंगला योजना भी संचालित की जा रही है जिसके अन्तर्गत बेटियों को जन्म से लेकर इण्टरमीडिएट तक पढाई के लिये विशेष सुविधायें प्रदान की गयी हैं। उन्होने कहा कि वर-वधु अपने संस्कारों से परिवार को सुखमय और शन्तिपूर्ण बनायें। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष, भाजपा, अनुसूचित मोर्चा, कपिल बिरसेनिया द्वारा कहा गया कि वर्तमान सरकार समाज में प्रत्येक वर्ग के व्यक्ति के कल्याणार्थ पूर्ण तत्परता के साथ कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत आज इस कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले सभी जोडे अलग-अलग समाज एवं धर्म से है। सरकार द्वारा संचालित इस योजना का लाभ पाकर अभिभावकों की बेटियों की शादियों की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी को पूरा करने का सुअवसर अभिभावकों को प्राप्त हो रहा हैं। कार्यक्रम में जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती ललिता यादव ने बताया कि इस योजना के अन्तर्गत रू 02.00 लाख वार्षिक आय वाले परिवारों की कन्याओं का सामूहिक विवाह समाज कल्याण विभाग द्वारा नगर निगम, जिला पंचायत, क्षेत्र पंचायत (खण्ड विकास अधिकारी) तथा नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत के माध्यम से निःशुल्क सम्पन्न कराया जाता है। इस हेतु शासन द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में दी जाने वाली सहायता रू0 51,000/- की धनराशि में से रू0 35,000/- कन्या के खाते में भेजे जाते हैं, रू0 10,000/- की सामग्री दी जाती है और रू0 6,000/- प्रति जोड़े की दर से विवाह आयोजन में व्यय होती है। कार्यक्रम के अन्तिम चरण में जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती ललिता यादव द्वारा उपस्थित अतिथियों का आभार व्यक्त किया गया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी जुनैद अहमद, उप निदेशक समाज कल्याण विभाग एस0एन0 त्रिपाठी, जिलाध्यक्ष, भाजपा, अनुसूचित मोर्चा, कपिल बिरसेनिया, जिला समाज कल्याण अधिकारी श्रीमती ललिता यादव, वरिष्ठ सहायक मनोज कुमार सहित अन्य पार्टी प्रतिनिधि, अधिकारीगण/कर्मचारीगण एवं लाभार्थियों के परिजन उपस्थित रहे।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा