July 14, 2024

पोर्टल पर शतप्रतिशत डेटा फीड न होने पर होगी कार्यवाही

झांसी। मण्डलायुक्त झाँसी बिमल कुमार दुबे ने स्वास्थ्य कार्यक्रमों की विशेष वर्चुअल समीक्षा कर ब्लाक स्तरीय अधिकारियों को स्वास्थ्य कार्यकर्मों के प्रति संवेदनशील रहकर कार्य करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि एन.एच.एम. के संचालित आर.सी.एच. पोर्टल व ई कवच पर सभी लाभार्थियों का डेटा शतप्रतिशत फीड किया जाये। मण्डलायुक्त ने कहा कि आशा व ए.एन.एम. स्वास्थ्य सेवाओं की धुरी हैं ऐसी स्थिति में यह आवश्यक है कि उनके स्तर पर रखे जाने वाला डेटा सही व पूर्ण हो। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी आशाओं की आशा डायरी व ए.एन.एम. का रजिस्टर हर हाल में एक माह में पूरी तरह से पूर्ण कर लिया जाये जिसका सत्यापन सी.एम.ओ. स्तर से कराया जायेगा। मण्डलायुक्त ने कहा कि आयुष्मान भारत के अन्तर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में खोले गये हैल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर को राष्ट्रीय स्तर के मानक पर सुसज्जित कराया जाये। अगले छ: माह में मण्डल के 75 हैल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर राष्ट्रीय मानक पर पहुँचे इसके लिये सभी संबंधित विभाग मिलकर कार्यवाही करें। मण्डलायुक्त ने मैटरनल डैथ एवं चाइल्ड डैथ रिव्यु एवं ऑडिट कराये जाने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्तर्गत संचालित आर.बी.एस.के. कार्यक्रम के माध्यम से आँगनबाड़ी एवं स्कूलों के विभिन्न जन्मजात बीमारियों से ग्रसित बच्चों को खोजकर उनके उपचार/सर्जरी कराये जाने की योजना की नियमित समीक्षा कि जाये जिससे सभी पीड़ित बच्चे उपचारित हो सकें। मण्डलायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों को नियमित मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिये हैं। बैठक में अपर निदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य डा. आर.के. सोनी, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या एस.एन. त्रिपाठी, डा. जय प्रकाश, सुनील कुमार, गणेश पाण्डे, अतीब खान, धीरज सिंह चौहान आदि उपस्थित रहे। इस बैठक में झाँसी मण्डल के सभी जनपदीय व ब्लाक स्तरीय चिकित्साधिकारी एवं प्रबंधकों ने भाग लिया। बैठक का संचालन मण्डलीय परियोजना प्रबंधक एन.एच.एम. आनन्द चौबे ने किया।

रिपोर्ट – मुकेश वर्मा/राहुल कोष्टा